स्वास्थ्य अधोसंरचना के सुदृढ़ीकरण के लिए प्रतिबद्ध

शिमला———– मुख्यमंत्री द्वारा की गई घोषणाओं के कार्यान्वयन पर आज यहां स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए स्वास्थ्य मंत्री श्री विपिन सिंह परमार ने कहा कि राज्य सरकार स्वास्थ्य अधोसंरचना के सुदृढ़ीकरण के लिए प्रतिबद्ध है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश के लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने के लिए 179 नए चिकित्सा अधिकारियों की नियुक्ति को स्वीकृति प्रदान की गई है। इन चिकित्सा अधिकारियों में से लगभग 60 की नियुक्ति प्रदेश के दूर-दराज क्षेत्रों के चिकित्सा संस्थानों में की जाएगी, जहां अभी कोई चिकित्सक उपलब्ध नही हैं।

उन्होंने कहा कि मेडिकल कॉलेज हमीरपुर को भारतीय चिकित्सा परिषद् के निर्देशां के अनुसार आवश्यक स्टाफ प्रदान किया जाएगा, जिसमें शिक्षक तथा जुनियर रेजिडेंट भी शामिल हैं।

विभाग द्वारा कॉलेज में इस वर्ष शैक्षणिक सत्र आरम्भ करने के लिए 53 नियुक्तियों को स्वीकृति प्रदान की गई है। उन्होंने कहा कि यह पहला मौका है जब राज्य सरकार बहुत कम समय अवधि में 179 पदों को स्वीकृति प्रदान की गई है।

दवा निर्माताओं द्वारा नियमों की उल्लंघना करने के मामले का संज्ञान लेते हुए स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि किसी को भी दवा नियमों को अनदेखा करते हुए लोगों के स्वास्थ्य से खिलवाड़ नहीं करने दिया जाएगा तथा दोषियों के लाईसेंस को तत्काल रद्द किया जाएगा।

प्रधान सचिव स्वास्थ्य श्री प्रबोध सक्सेना तथा निदेशक राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन श्री पंकज राय भी इस बैठक में उपस्थित थे।