विपक्षीयों की अंतःकथा–साला सब बंद—-सुतिंदर छाबडा

sutinder3 साल में सब बर्बाद हो गया,

3 साल में मोदी सरकार ने पूरा सत्यानाश कर दिया,

अरे भई करप्शन करने को नहीं मिल रहा ,

बताओ पूरे देश से साफ़ कर दिया ,

एक सरकार बनाना मुश्किल हो गया है कैसे करे करप्शन ?

सब्सिडी की बंदरबांट से कमाई हो जाती थी पर अब वो भी बंद कर दिया इसने अब टेक्स चोरी करने में दिककत होने लगी है,

GST को पैनकार्ड से लिंक कर दिया,

पेन को आधार से लिंक कर दिया ,

साला ! सब आधार से लिंक कर दिया ,

जरा कुछ करो,

इनकम टैक्स वाले आ जाते हैं, चाय पीने! हद से ज्यादा परेशान कर दिया,

बताओ !

पहले कितना अच्छा था !

LPG सिलेंडर के कनेक्शन कम थे पर सब्सिडी दुगने,

ब्लैक में LPG सिलेंडर से कार चला लेते थे, अब और दिक्कत है ,

साला पैट्रोल से चलाना पड रही है,

केरोसिन मिला के पेट्रोल बेचते थे ,उसका अलग मुनाफा था,

साला केरोसिन ही बंद कर दिया अगले ने,

कांग्रेस कितनी अच्छी थी !!

किसान को यूरिया पर सब्सिडी देती थी,

यूरिया जाता था कारखाने में और सब्सिडी जाती थी हमारी जेब में .

ये मोदी है न !!

परेशान करने के लिए यूरिया पर साला नीम चढ़ा दिया,

अब ये यूरिया बन गया जैसे करेला ऊपर से नीम चढ़ा,

साला अब यूरिया केवल खेत के काम का रह गया है,

सब्सिडी के पैसे का नुकसान हुआ सो अलग,

फर्जी NGO बना के कितने सारे अंदर कर लिया करते थे,

पर ये है न!!

चाय वाला सबको जांच के दायरे में कर लिया,

अब विदेश से पैसा भी नहीं मिल पा रहा,

अरे क्या- क्या गिनाऊ ?

बहुत कुछ है बताने को पर अब सहा नहीं जाता भैय्या !!!