देश का सबसे स्वच्छ राज्य– राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद से सम्मान

अंबिकापुर को स्वच्छता रैकिंग में देश में दूसरा और भिलाई को मिला 11वां स्थान

रायपुर—– छत्तीसगढ़ को देश का सबसे स्वच्छ राज्य का सम्मान हासिल हुआ है। छत्तीसगढ़ को यह सम्मान आज नई दिल्ली के विज्ञान भवन में आयोजित गरिमामय समारोह में राष्ट्रीय स्वच्छता सर्वेक्षण 2019 की रैकिंग में पहला स्थान पाने पर मिला।

राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद ने समारोह में छत्तीसगढ़ के नगरी प्रशासन और विकास मंत्री श्री शिव कुमार डहरिया को यह पुरस्कार प्रदान किया । राष्ट्रीय स्वच्छता सर्वेक्षण 2019 की रैकिंग में छत्तीसगढ़ के अम्बिकापुर शहर को देशभर में दूसरा और भिलाई नगर को 11 वां स्थान मिला है ।

इस अवसर पर छत्तीसगढ़ के नगरीय प्रशासन और विकास मंत्री श्री शिव कुमार डहरिया ने कहा कि छत्तीसगढ़ राज्य के लिए यह बहुत प्रसन्नता और गौरव का अवसर है । उन्होंने कहा कि पिछले सर्वेक्षण के मुकाबले इस बार हमने काफी बेहतर प्रदर्शन किया है और आगे भी इससे बेहतर करेंगे ।

उन्होंने बताया कि छत्तीसगढ़ के 28 शहरों को स्वच्छता सर्वेक्षण रैकिंग में विभिन्न वर्गो में स्थान प्राप्त हुआ है, जो राज्य के लिए अत्यंत गौरव की बात है । इस अवसर पर भिलाई के महापौर और विधायक श्री देवेन्द्र यादव , नगरीय प्रशासन विभाग की विशेष सचिव सुश्री अलरमेलमंगई डी और अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे।

छत्तीसगढ़ के अम्बिकापुर शहर ने स्वच्छता में इस बार पूरे देश में दूसरा स्थान प्राप्त किया हैं । इसके पूर्व वर्ष 2017 में अम्बिकापुर को 15 वां और 2018 में 11 स्थान प्राप्त हुआ था। इसी तरह रायपुर को 10 लाख से अधिक आबादी वाले शहरों में स्वच्छता में सबसे तेज बढ़ते शहर का पुरस्कार प्राप्त हुआ है।

रायपुर की 2018 में रैकिंग 139 से 2019 में बढ़कर 41 हो गयी हैं। राष्ट्रीय स्वच्छता सर्वेक्षण में एक लाख से अधिक आबादी वाले शहरों में बिलासपुर को 28 वीं , जगदलपुर को 32 वीं , दुर्ग को 33 वीं , राजनांदगांव को 42 वीं , रायगढ़ केा 43 वीं और कोरबा को 65 वीं रैकिंग प्राप्त हुई है ।

एक लाख से कम आबादी वाले शहरों में नरहरपुर को 20 वीं , विश्रामपुर को 21 वीं, जशपुर को 39 वीं , भिलाई चरोदा को 40 वीं , सहरसपुर लोहारा को 43 वीं , बीजापुर को 48 वीं , बलरामपुर को 52 वीं , चिकखलाकसा को 53 वंीं , पाली को 57 वीं , छुरा को 58 वीं , सरायपाली को 60 वीं , कुनकुरी को 68 वीं , कवर्धा को 71 वीं , छुर्रीकला को 76 वीं , कांकेर को 79 वीं सीतापुर को 81 वीं , मगरलोड को 89 वीं , झगराखंड को 93 वीं और तिफरा को 96 वीं रैकिंग प्राप्त हुई है ।