Category Archives: मनोरंजन

मेडिकल कॉलेज में रेगुलर फैकल्टी की नियमित नियुक्ति प्रक्रिया पर रोक

देहरादून : हाईकोर्ट ने दून मेडिकल कॉलेज में रेगुलर फैकल्टी के लिए शुरू नियुक्ति प्रक्रिया पर फिलहाल रोक लगाते हुए सरकार से जवाब दाखिल करने के निर्देश दिए हैं। कोर्ट…

11 तिथियां सुनिश्चित के वाबजूद भी कोर्ट में हाजिर नही –जमानती वारंट जारी

चुनाव प्रचार के दौरान धारा 144 का उल्लंघन *************************************** इलाहाबाद ——— सूबे की पर्यटन मंत्री डॉ. रीता बहुगुणा जोशी के खिलाफ गैर जमानती वारंट (एनबीडब्ल्यू) जारी हुआ है। विशेष न्यायाधीश…

लड़कियों के कंकाल बरामद हुए,34 लड़कियों को पीटा गया—एेसा तो नहीं चलेगा—सुप्रीम कोर्ट

पटना ———– बिहार के सुपौल में मनचलों द्वारा छेड़खानी किए जाने का विरोध करने पर 34 स्कूली छात्राओं की पिटाई के मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने स्वतः संज्ञान लिया और…

रामपुर तिराहा — 23 साल बाद कोर्ट मामले पर गंभीर

नैनीताल -(दैनिक जागरण)——- हाईकोर्ट ने राज्य आंदोलन के दौरान एक अक्टूबर की रात राज्य आंदोलनकारियों और महिलाओं के साथ हुई बर्बता के मामले में सुनवाई करते हुए उत्तर प्रदेश व…

नागराज का हवाला– प्रमोशन में आरक्षण देना जरूरी नहीं है—सुप्रीम कोर्ट

** आंकड़े जारी करने के बाद राज्य सरकारें आरक्षण पर विचार कर सकती हैं ** ‘क्रीमी लेयर’ के सिद्धांत को सरकारी नौकरियों की पदोन्नती में एससी-एसटी आरक्षण में लागू नहीं…

नाबालिग से दुराचार के आरोपी को बीस साल का सश्रम कारावास

फिरोजाबाद (विकासपालिवाल)——— अपर सत्र न्यायाधीश फास्ट ट्रेक कोर्ट प्रथम मृदुल दुबे ने नावालिग से दुराचार के आरोपी को बीस साल के सश्रम कारावास की सजा एवं 55 हजार के जुर्माने…

सीआरपीसी के प्रावधानों का पालन किए बगैर गिरफ्तारी नहीं—इलाहाबाद उच्च न्यायालय

लखनऊ : इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने पुलिस से कहा कि वह उच्चतम न्यायालय के 2014 के एक आदेश द्वारा समर्थित सीआरपीसी के प्रावधानों का पालन किए बगैर एक दलित महिला…

नोटिस– SC/ST Act संशोधन मामले में छह हफ्ते में जवाब — सुप्रीम कोर्ट

SC/ST Act संशोधन मामले में सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र को भेजा न्यूज 18————— सुप्रीम कोर्ट ने 21 मार्च, 2018 में दिए अपने फैसले में कहा था कि सरकारी कर्मचारियों की…

न्याय मिलने में देरी भारतीय न्यायिक प्रणाली के लिए अभिशाप — गुस्से में राष्ट्रपति

नई दिल्ली : लगातार एक के बाद एक हाईकोर्ट,सुप्रीम कोर्ट के फैसलों ने राष्ट्रपति कोविंद को भी सोचने पर मज़बूर कर दिया है. कोर्ट में दिवाली पटाखे को लेकर फैसला…

11 साल से चल रहे मुकदमें पर दो मिनट में आया फैसला

11 साल से चल रहे मुकदमें पर दो मिनट में आया फैसला, उधेड़ दीं न्याय की धज्जियां सरकारी वकील की लिखित बहस और नजीरें आने की तरीख पर जज ने…

Powered By Indic IME