26 जिलों के विद्यार्थियों को चार लाख सैंतीस हजार रुपये की छात्रवृति

(i) भवन निर्माण में लगे राजमिस्त्री और ठेकेदारों की संतानों के शिक्षित भविष्य हेतु नेक पहल

(ii) इंदौर समेत पश्चिमी मध्यप्रदेश के लगभग 26 जिलों के विद्यार्थियों के लिए अद्वितीय पहल की शुरुआत….. ताकि घर बनाने वाले हाथों के घरों में भी फैले शिक्षा का उजाला

(iii) “शिक्षा को अपना औजार बनाओ, बिरला उत्तम के साथ बच्चों का भविष्य बनाओ” का नारा और संकल्प लिया

इंदौर———–मध्यभारत से 13 मार्च 2019, बुधवार को एक बड़ी नेक, और क्रांतिकारी पहल आरम्भ की गयी। देश के बड़े एवं नामचीन उद्यमी परिवार, मंगलम सीमेंट लिमिटेड (बिरला उत्तम) द्वारा भवन निर्माण में कार्यरत राजमिस्त्री और ठेकेदारों की संतानों के शिक्षित एवं उज्जवल भविष्य के लिए “उत्तम शिक्षा पहल” की शुरुआत की गई।

इंदौर, भोपाल, शाजापुर, पचैर, मंदसौर, नीमच, उज्जैन समेत पश्चिमी मध्यप्रदेश के लगभग 26 जिलों से प्राप्त अंक एवं योग्यता के आधार पर हजारों बच्चों में से चयनित 27 मेधावी छात्र-छात्राओं को कुल चार लाख सैंतीस हजार रुपये की छात्रवृति प्रदान की गई।

मंगलम सीमेंट के प्रेसिडेंट दृ सेल्स एंड मार्केटिंग, कौशलेश महेश्वरी ने चयनित मेधावी विद्यार्थियों में से हाईस्कूल के हर छात्र को 11 हजार रुपये और इंटरमीडिएट के हर छात्र को 21 हजार रुपये का चेक प्रदान कर उनकी प्रतिभा को सम्मानित किया।
श्री कौशलेश महेश्वरी ने ष्शिक्षा को अपना औजार बनाओ, बिरला उत्तम के साथ बच्चों का भविष्य बनाओष् का नारा और संकल्प दोहराते हुए कहा कि “सेवा का यह सिलसिला जारी रहेगा। इस अनूठी पहल से सभी ठेकेदार और राजमिस्त्री भाइयों के घरों में शिक्षा का उजाला फैलेगा।”

इस दौरान जनरल मैनेजर-

सेल्स एंड मार्केटिंग जी.एस. राठौर,डी.जी.एम. राजेश कल्ला,राम गुप्ता,विक्रांत पारीक, दीपांशु जैन एवं इंदौर के सेल्स प्रमोटर डीपी एंड संस समेत पश्चिमी मध्यप्रदेश के डीलर, सभी सेल्स प्रमोटर्स और कंपनी के प्रमुख अधि