1570 मांगें व शिकायतें प्राप्त

जनमंच से — हिमाचलप्रदेश———-

जिला हमीरपुर

विधानसभा अध्यक्ष डॉ. राजीव बिंदल ने कहा कि जन मंच जनता और सरकार के बीच सीधे संवाद का एक उपयुक्त मंच साबित हुआ है और यह जनता की शिकायतों को उनके घर-द्वार पर प्रभावी तरीके से हल करने में मदद कर रहा है।

वह हमीरपुर जिले के लम्बलू में जन मंच की अध्यक्षता कर रहे थे, जहां 108 मांगें और शिकायतें मिली थीं।

डॉ. बिंदल ने इस अवसर पर 20 लाभार्थी महिलाओं को मुफ्त एलपीजी कनेक्शन और विभिन्न प्रमाणपत्रों वितरित किए।

विधायक नरेंद्र ठाकुर भी इस मौके पर मौजूद थे।

जिला कुल्लू

खाद्य, नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता मामले मंत्री किशन कपूर ने कुल्लू जिले के बंजार निर्वाचन क्षेत्र की सैंज उप तहसील में जन मंच की अध्यक्षता की। कार्यक्रम के दौरान 116 मांगों और शिकायतों को प्रस्तुत किया गया, जिसमें से 55 का मौके पर निपटारा किया गया।

इस अवसर पर किशन कपूर ने कहा कि राज्य सरकार एनएचपीसी और एचपीपीसीएल पनविद्युत परियोजना से प्रभावित परिवारों की समस्याओं का समाधान उच्च स्तरीय बैठक में करेगी।

मंत्री ने लाभार्थी महिलाओं को 237 रसोई गैस कनेक्शन वितरित किए और ‘बेटी है अनमोल योजना’ के तहत 17 लड़कियों को सावधि जमा खाते वितरित किए। कार्यक्रम के दौरान 420 से हिम केयर कार्ड भी तैयार किए गए।

विधायक सुरेंद्र शौरी भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

जिला सोलन

सोलन जिले में डांगिल पंचायत में जन मंच का आयोजन किया गया तथा कार्यक्रम की अध्यक्षता ऊर्जा मंत्री अनिल शर्मा ने की। उन्होंने बिजली बोर्ड के अधिकारियों को महीने के भीतर टकराना, कुरगल और नौरा सिंचाई योजनाओं के लिए ट्रांसफार्मर स्थापित करने के निर्देश दिये।

उन्होंने डांगिल पंचायत के बखोर गाँव में 63 केवी ट्रांसफार्मर को प्राथमिकता के आधार पर स्थापित करने के भी निर्देश दिया। उन्होंने आश्वासन दिया कि टीसीपी अधिनियम से चायल क्षेत्र की सात पंचायतों को बाहर करने के लिए सरकार के साथ मामला उठाया जाएगा।

जन मंच के दौरान 236 मांगें और शिकायतें प्राप्त हुई और इस अवसर पर विभिन्न प्रकार के प्रमाणपत्र वितरित किए गए।

जिला शिमला

शिमला जिले में जन मंच का आयोजन शिमला में किया गया, जिसकी अध्यक्षता शहरी विकास मंत्री सरवीन चौधरी ने की और शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज विशेष अतिथि के रूप में उपस्थित थे।

सरवीण चौधरी ने कहा कि राज्य सरकार ने समाज के सभी वर्गों का कल्याण सुनिश्चित करने के लिए विभिन्न कल्याणकारी योजनाएं शुरू की हैं। महिला सशक्तिकरण और पर्यावरण संरक्षण के उद्देश्य से, हिमाचल गृहिणी सुविधा योजना शुरू की गई है, जिसके तहत उन परिवारों को मुफ्त गैस कनेक्शन दिए जा रहे हैं, जो भारत सरकार की उज्जवला योजना के तहत नहीं आते हैं।

इस अवसर पर 123 मांगें और शिकायतें प्राप्त हुईं।

शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज ने सात महीने के भीतर शिमला शहर में विभिन्न फ्लाईओवर पर काम पूरा करने के निर्देश दिये।

जिला सिरमौर

सिरमौर जिले में जन मंच का आयोजन पच्छाद विधानसभा क्षेत्र के देवठी-मझगाँव में किया गया, जिसमें 88 मामले प्राप्त हुए थे। समारोह की अध्यक्षता करते हुए, कृषि मंत्री डॉ. रामलाल मारकंडा ने कहा कि रसुमंदर और पझौता क्षेत्र के किसानों की सुविधा के लिए एक विपणन सब-यार्ड स्थापित किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार किसानों को बेहतर विपणन सुविधा प्रदान करने के लिए प्रयासरत है और किन्नौर, शिमला और सोलन जिलों में नेस्केफे और मदर डेयरी के समन्वय से बिग बास्केट योजना शुरू की गई है तथा जल्द ही रिलायंस को जोड़ा जाएगा।

इस अवसर पर कृषि मंत्री ने लाभार्थी महिलाओं को 140 गैस कनेक्शन वितरित किए और 13 लड़कियों को ‘बेटी है अनमोल’ कार्यक्रम के तहत सम्मानित किया।

विधायक सुरेश कश्यप भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

जिला मंडी

स्वास्थ्य मंत्री विपिन सिंह परमार ने जिला मंडी के द्रंग निर्वाचन क्षेत्र के कटोला में आयोजित समारोह की अध्यक्षता की। जन मंच के दौरान 142 मांगें और शिकायतें प्राप्त हुईं, जिनमें से अधिकांश का मौके पर निपटारा कर दिया गया।

मंत्री ने लाभार्थियों को विभिन्न प्रमाण पत्र और एलपीजी कनेक्शन वितरित किए।

इस अवसर पर विधायक जवाहर ठाकुर भी उपस्थित थे।

जिला ऊना

ऊना जिले के गगरेट विधानसभा क्षेत्र में कुठेड़ा जसवालां पंचायत में आयोजित जन मंच के दौरान 176 मांगें और शिकायतें प्राप्त हुईं, कार्यक्रम की अध्यक्षता ग्रामीण विकास और पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर ने की।

इस अवसर पर बोलते हुए, मंत्री ने कहा कि भाजपा सरकार ने गगरेट विधानसभा क्षेत्र के लिए एसडीएम कार्यालय को मंजूरी दी है और दौलतपुर चौक पर सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य उपमण्डल खोला गया है।

उन्होंने कार्यक्रम के दौरान ‘बेटी है अनमोल योजना’ के तहत दस लड़कियों को सावधि जमा खाते (एफडी) तथा 295 मुफ्त एलपीजी कनेक्शन वितरित किए।
विधायक राजेश ठाकुर भी इस अवसर पर उपस्थित रहे।

जिला कांगड़ा

उद्योग मंत्री बिक्रम सिंह ने कहा कि राज्य सरकार युवाओं को स्वरोजगार मुहैया कराने के लिए सभी प्रयास कर रही है और इस संबंध में विभिन्न प्रकार के प्रोत्साहनों का प्रावधान करके विभिन्न योजनाएं आरम्भ की गई हैं।

उन्होंने युवाओं से मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना का लाभ उठाने का आग्रह किया, जिसके तहत विभिन्न प्रोत्साहन दिए जा रहे हैं, वह कांगड़ा जिले के नगरोटा विधानसभा क्षेत्र के बड़ोह में जन मंच की अध्यक्षता कर रहे थे।

इस अवसर पर उन्होंने ‘बेटी है अनमोल योजना’ के तहत 22 लड़कियों को सावधि जमा खाते और हिमाचल गृहिणी सुविधा योजना के तहत 350 मुफ्त एलपीजी कनेक्शन वितरित किए।

कार्यक्रम के दौरान 160 मामले प्राप्त हुए, जिनमें से 140 का मौके पर निपटारा किया गया।

उपायुक्त संदीप कुमार के अनुसार, जन मंच से पूर्व 303 मामले प्राप्त हुए थे, जिनमें से 277 का इस जन मंच के पहले निवारण किया गया है।

जिला बिलासपुर

बिलासपुर जिले के कंदरौर में, सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री डॉ. राजीव सैजल ने जन मंच की अध्यक्षता की। जिले में जन मंच के दौरान 345 मांगें और शिकायतें आईं।
उन्होंने 320 गैस कनेक्शन, बेटी है अनमोल योजना के तहत एफडी तथा विभिन्न प्रमाण पत्र और वितरित किए।

जिला चंबा

चंबा जिले में, चुराह विधानसभा क्षेत्र के दुगली में जन मंच आयोजित किया गया था, जिसकी अध्यक्षता विधानसभा उपाध्यक्ष हंसराज ने की। उन्होंने कहा कि लोगों की सुविधा के लिए चुराह निर्वाचन क्षेत्र में विभिन्न सड़क परियोजनाएं लागू की जा रही हैं और कैला-दुगली सड़क को चौड़ा करने पर चार करोड़ रुपये खर्च किए जा रहे हैं।

उन्होंने लगभग 36 लाभार्थियों को निःशुल्क गैस कनेक्शन और अन्य विभिन्न प्रमाण पत्र वितरित किए।

इस अवसर पर 77 मांगें और शिकायतें प्राप्त हुईं और उनमें से अधिकांश का मौके पर निवारण किया गया।