होमगार्ड्स स्वयं सेवकों के आश्रितों को चेक व बच्चों को छात्रवृत्ति का वितरण—-श्री अनिल राजभर

प्रदेष में लगभग 90 हजार होमगार्ड्स प्रतिदिन विभिन्न कार्यों पर
***********************************************
लखनऊ: —(संध्या कुरील)—– होमगार्डों ने बदले हुये वातावरण में अपने सराहनीय कार्यों से देष का ध्यानाकर्शण किया है। इसीलिये भारतीय रेल, मेट्रो, टेलीफोन आदि से निरन्तर उनकी मांग की जा रही है। वर्तमान सरकार सिर्फ जवानों का ही नहीं उनके परिवार का भी ध्यान रखती है।

यह कार्यक्रम सरकार का दिवंगत हुये होमगार्डों के आश्रितों के जख्मों में मरहम लगाने का प्रयास है। यह बात होमगार्ड्स राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री अनिल राजभर ने आज यहां होमगाडर््स मुख्यालय में आयोजित होमगाडर््स कल्याण कार्यक्रम के दौरान कही।

श्री राजभर ने कहा कि होमगार्डों की 19000 रिक्तियों की भर्ती तत्परतापूर्वक षीघ्र करायी जायेगी। पदोन्नतियों को भी षीघ्रता से कराया जायेगा। उन्होंने कहा कि अन्य प्रदेशों में चुनाव के समय जितनी कर्तव्य निष्ठा से कार्य होमगार्ड्स जवानों ने किया है, वह सराहनीय है। इनकी ख्याति प्रदेश में ही नहीं पूरे देश में है।

कमाण्डेन्ट जनरल, होमगार्ड्स श्री जी.एल. मीना ने इस कार्यक्रम के दौरान कहा कि होमगार्ड्स जवानों द्वारा मेहनत एवं कर्मठता से कर्तव्यों के सम्पादन का यह नतीजा है कि वर्तमान समय में प्रदेष में लगभग 90 हजार होमगार्ड्स प्रतिदिन विभिन्न कार्यों के लिए लगाये जा रहे हैं।

प्रदेष में षान्ति व्यवस्था के अतिरिक्त 12 हजार होमगार्ड्स स्वयंसेवकों को मध्य प्रदेष में विधान सभा निर्वाचन-2018 तथा 3 हजार होमगार्ड्स स्वयंसेवकों को राजस्थान विधान सभा निर्वाचन-2018 हेतु प्रतिस्थापित किया गया था।