सांझी मदद के सामग्री संग्रहण केंद्र का उद्घाटन — सोनल गोयल

झज्जर(जनसंपर्क विभाग)————– उपायुक्त सोनल गोयल ने जरूरतमंदों की मदद के लिए जिला प्रशासन की विशेष पहल सांझी मदद के लिए बाल भवन झज्जर में बनाए गए सामग्री संग्रहण केंद्र का गुरूवार को शुभारंभ किया। सामग्री संग्रहण केंद्र के शुभारंभ अवसर पर बड़ी संख्या में लोगों ने अपने पुराने कपड़े, किताब, खिलौने, जूते व खेल का सामान जरूरतमंदों की मदद के लिए जमा कराया तथा जिला प्रशासन की पहल की प्रशंसा की। उपायुक्त ने सांझी मदद में सामग्री का योगदान करने वालों का आभार जताया।
1
श्रीमती गोयल ने कहा कि जीवन में परोपकार पुण्य और संतुष्टि देने वाला कार्य होता है। समाज में सभी व्यक्ति समान नहीं होते किसी के पास संसाधन अधिक तो किसी के पास जीवन में उपयोग के लिए मूलभूत सामान भी नहीं होता। ऐसे में समाज की सुंदरता इसी में होती है कि एक दूसरे का ख्याल करते हुए जीवन में आगे बढ़ा जाए। देश या अन्य कही आए संकट में झज्जर जिला के लोगों ने बढ़-चढ़ कर अपना योगदान दिया है। करूणा का यह भाव स्थायी बना रहे इसके लिए सांझी मदद कार्यक्रम आरंभ किया गया है।

उपायुक्त ने जिला के लोगों से भी अपील की है कि आपके घर में इस्तेमाल होने लायक पुराने कपड़े, जूते, किताब, खिलौने व खेल का सामान रखा हो तो जरूरतमंदों की मदद के लिए बाल भवन झज्जर में जमा कराए ताकि जरूरतमंद लोगों के चेहरों पर आपके योगदान से मुस्कान लाई जा सके। उन्होंने कहा कि यह प्रयोग देश के अनेक नगरों में बेहद लोकप्रिय साबित हुआ है। झज्जर जिला के लोग भी निस्वार्थ भाव से सांझी मदद में अपना योगदान करे। उन्होंने कहा कि पहले दिन मिले जनसहयोग को देखते हुए उम्मीद की जाती है कि झज्जर के लोग इस कार्यक्रम को निरंतर आगे बढ़ाएंगे।

इस अवसर पर एसडीएम झज्जर रोहित यादव, सीटीएम अश्विनी कुमार, जिला परिषद की सीईओ एवं सांझी मदद कार्यक्रम की नोडल अधिकारी शिखा, डीडीपीओ विशाल कुमार, जिला राजस्व अधिकारी मनबीर सांगवान, जिला सूचना एवं जनसम्पर्क अधिकारी नीरज कुमार, सीएमजीजीए निषिता बनर्जी, तहसीलदार मनमोहन सिंह, महिला एवं बाल विकास विभाग की जिला कार्यक्रम अधिकारी सुनैना, जिला बाल कल्याण अधिकारी सुरेखा हुड्डा सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे। कैप्शन : झज्जर में सांझी मदद कार्यक्रम के लिए बाल भवन में सामग्री संग्रहण केंद्र का रिबन काटकर उद्घाटन करते हुए उपायुक्त सोनल गोयल।

—————————–