सरपंच पति पर एफ.आई.आर.दर्ज

सीधी (विजय सिंह)– अपर मुख्य सचिव ग्रामीण विकास राधेश्याम जुलानिया के निर्देश के बावजूद जिलापंचायत सीधी द्वारा कार्यवाही न करने पर आखिर उन्हें अपने अधिकारों का प्रयोग करना पड़ा और ग्राम पंचायत इटहा की महिला सरपंच, सचिव, रोजगार सहायक सहित फर्जी कार्य का मूल्यांकन करने वाले उपयंत्री की सेवाएं समाप्त कर दी गईं व सरपंचपति के विरुद्ध पुलिस में एफ.आई.आर.दर्ज कराने का आदेश दिया है |

जनपद पंचायत रामपुर नैकिन अंतर्गत ग्राम पंचायत इटहा मेंशांतिधाम, आवास योजना एवं सड़क की राशि बगैर कार्य कराये ही बंदरबांट करने एवं सचिव द्वारा सरपंच के फर्जी हस्ताक्षर कर राशि आहरित करने की शिकायत श्री जुलानिया से की गई थी | उन्होंने व्यवस्था अनुसार शिकायत की जांच जिला पंचायत को करने निर्देश दिया था | किन्तु जांच अधिकारी द्वारा आर्थिक अपराध पर कार्यवाही के बजाय सरपंच व सचिव के बीच लिखित रूप समझौता कराने में जुटे रहे |

जिला पंचायत द्वारा मामले में कारगर कार्यवाही के बजाय लीपापोती करने की नीयत से सरपंच एवं सचिव के बीच लिखित में समझौता कराने का प्रयास किया जाता रहा | अंततः यह जानकारी मिलने पर अपर मुख्य सचिव ने सरपंच श्रीमती गीता जायसवाल को पंचायती राज अधिनियम की धारा 39 (1) के तहत् पद से पृथक करने के साथ-साथ सचिव यज्ञ नारायण तिवारी, सम्बंधित उपयंत्री एवं रोजगार सहायक की सेवाएं समाप्त करने का आदेश दिया है |

आवास योजना के 6 हितग्राहियों की राशि हड़पने के प्रथम दृष्टया आरोप में सरपंच पति के विरुद्धएफ.आई.आर.दर्ज कराने का आदेश दिया है |