लिंगानुपात में सकारात्मक परिवर्तन :- बबीता रानी

बहादुरगढ़(जनसंपर्क विभाग)—– उपमंडल में शहरी व ग्रामीण क्षेत्र की आंगनवाड़ी केंद्रों में बेटियों के नाम लोहड़ी पर्व तथा मकर सक्रांति की शुभकामनाएं दी गई। इस संदर्भ में नन्ही बेटियों ने काव्य रचना के माध्यम से पर्व को शोभायमान बना दिया।
12.01.18 CDPO

बहादुरगढ़ उपमंडल के गांव व शहरी क्षेत्र में स्थित आंगनवाड़ी केंद्रों में नन्ही बच्चियों के साथ लोहड़ी पर्व व मकर सक्रांति पर्व मनाया गया। महिला एवं बाल विकास विभाग की ओर से आयोजित कार्यक्रम में डब्लूसीडीपीओ बबीता रानी ने पहुंचकर सरकार की और से बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम के तहत लोगों को जागरूक किया।

उन्होंने उपस्थित लोगों को बताया कि गत वर्ष 2017 में झज्जर जिला के भीतर जन्म लेने वाले बच्चों में प्रति हजार लड़कों पर 920 लड़कियों ने जन्म लिया है। लिंगानुपात की यह दर 2010 से लेकर अब तक एक वर्ष के दौरान सर्वाधिक रही है । बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान के उपरांत झज्जर जिला में लिंगानुपात में 95 अंकों का उछाल आया है जिसके लिए उपायुक्त श्रीमती गोयल की संजीदगी साफ देखने को मिलती है।

उन्होंने कहा कि झज्जर जिले में उपायुक्त के मार्गदर्शन में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम को बेहतर ढंग से क्रियांवित किया गया है जिसके तहत आज हमारे सामने सफलतम परिणाम देखने को मिल रहे हैं। उन्होंने कहा कि बेटियां आज किसी भी क्षेत्र में पीछे नहीं है ऐसे में लोगों को सकारात्मक सोच के साथ बेटा-बेटी को समान समझना होगा।

उन्होंने उपस्थित महिलाओं को संकल्प दिलाया कि वह कन्या भ्रूण हत्या के खिलाफ अपनी मुहिम जारी रखेंगी और बेटियों को बचाने के साथ-साथ उन्हें शिक्षित करने में भी अपनी उल्लेखनीय भागीदारी निभाएंगी।

इस अवसर पर सुपरवाइजर सुमित्रा, सीमा, मनीषा, बालेश सहित अन्य आंगनवाड़ी कार्यकर्ता व सहायक मौजूद रही।