राजनैतिक दल एवं अन्य के लिए-‘‘न्यू सुविधा’’ ऐप लागू——– मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी

BLO के माध्यम से मतदान केन्द्रों पर ही मतदाता फोटो पहचान पत्र (EPIC) वितरण किया जायेगा।

पटना—–:- मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी, बिहार के कार्यालय स्थित सभागार में श्री एच० आर० श्रीनिवास, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी, बिहार ने विभिन्न राजनैतिक दलों को संबोधन करते हुए राज्य में आगामी लोकसभा चुनाव के संदर्भ में मतदान के विभिन्न पहलुओं की जानकारियाँ दी।

राजनैतिक दलों द्वारा मतदान के संबंध में उठाये गये षंकाओं का समाधान भी किया।
मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी, बिहार के द्वारा बताया गया कि 7 चरणों में मतदान किए जायेंगे।

प्रथम चरण ——-औरंगाबाद, नवादा, गया एवं जमुई ।
द्वितीय चरण —–किषनगंज, कटिहार, पूर्णियाँ, भागलपुर एवं बाँका।।
तृतीय चरण —– झंझारपुर, सुपौल, अररिया, मधेपुरा एवं खगड़िया ।
चतुर्थ चरण —— दरभंगा, उजियारपुर, बेगूसराय, समस्तीपुर एवं मुंगेर ।
पंचम चरण —— सीतामढ़ी, मधुबनी, मुजफ्फरपुर, सारण एवं हाजीपुर ।
षठम चरण ——-बालमिकीनगर, पष्चिमी चम्पारण, पूर्वी चम्पारण,षिवहर,
वैषाली, गोपालगंज, सिवान एवं महराजगंज ।
सातवें चरण —— नालन्दा, पटना साहिब, पाटलिपुत्र, आरा, बक्सर, सासाराम। काराकाट एवं जहानाबाद में मतदान किये जायेंगे।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी, बिहार ने बताया कि अधिसूचना जारी होने के साथ ही आदर्ष आचार संहिता लागू हो गई हैं। किसी भी प्रकार के प्रचार-प्रसार यथा पोस्टर/बैनर आदि के लिए विधिवत् अनुमति लेना आवष्यक है।

यह भी बताया गया कि राजनैतिक दल एवं अन्य के लिए भारत निर्वाचन आयोग, नई दिल्ली के द्वारा ‘‘न्यू सुविधा’’ ऐप लागू किया जा रहा है, जिसे जनसभा आदि के अनुमति हेतु इस पर आवेदन किया जा सकता है।

नागरिकों के लिए cVIGIL ऐप की सुविधा प्रदान की गई है। कोई भी नागरिक आदर्ष आचार संहिता के उल्लंघन के मामले को इस पर दर्ज करा सकता है। शिकायत दर्ज कराने के पष्चात् निर्वाचन पदाधिकारी के द्वारा Flying Squad Team से इसकी जाँच कराते हुए 100 मिनट के अन्दर इस पर की गई कार्रवाई से संबंधित प्रतिवेदन उपलब्ध कराया जाता है।

यह भी बताया गया कि नामांकन की अंतिम तिथि तक मतदाता अपना नाम जोड़वा सकते हैं। भारत निर्वाचन आयोग के द्वारा 23 मार्च 2019 तक मतदाता फोटो पहचान पत्र (EPIC) वितरण किया जाना है, जिसके लिए विषेश अभियान चलाकर BLO के माध्यम से मतदान केन्द्रों पर ही मतदाता फोटो पहचान पत्र (EPIC) वितरण किया
जायेगा।

उपस्थित राजनैतिक दल के प्रतिनिधियों को EVM के साथ VVPAT की भी जानकारी दी गई। यह भी बताया गया कि EVM एवं VVPAT एक foolproof system है, जिसमें किसी प्रकार की छेड़-छाड़ नहीं मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी, बिहार,की जा सकती है। मतदान में सभी पोलिंग स्टेषन के बाहर एक हेल्प लाईन सेंटर खोले जायेंगे। जहां से मतदाताओं को मतदाता सूची में उनके क्रमांक आदि की जानकारी दी जायेगी। मतदान करने हेतु 11 वैकल्पिक विकल्प में से किसी एक को दिखाया जाना आवष्यक होगा।

मतदाता पर्ची की मान्यता पहचान पत्र के रूप में नहीं रहेगी।

मतदाताओं की सुविधा हेतु प्रत्येक जिले में District Call Centre बनाया गया है। कोई भी व्यक्ति Universal number 1950 पर डायल कर मतदाता सूची, मतदान केन्द्र एवं अन्य सूचना प्राप्त कर सकते है।

लोक सभा निर्वाचन, 2019 के अवसर पर इस बार सेवा मतदाताओं को Electronic माध्यम से मतपत्र भेजे जायेंगे।

मतगणना दिवस के प्रातः 8ः00 बजे तक प्राप्त हुये पोस्टल बैलेट पेपर की गणना की जायेगी। सभी राजनीतिक दल के प्रतिनिधियों का एक ग्रुप बनाते हुए whats App no.जोड़ा गया। उन्होंने कहा कि अभ्यर्थी अपनी षिकायतें आनलाईन भी दर्ज करा सकते है। बैठक में सभी राजनैतिक दल के प्रतिनिधि उपस्थित थे।