यह चुनाव मतदाताओं के सम्मान व मान प्रतिष्ठा का चुनाव है – अजय सिंह राहुल

सीधी (विजय सिंह) पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह राहुल भैया ने आज प्रदेश के पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री कमलेश्वर पटेल, भूतपूर्व सांसद तिलक राज सिंह, जिला कांग्रेस कमेटी के पूर्वअध्यक्ष चिंतामणि तिवारी सहित अन्य कांग्रेस जनों के साथ अपना नामांकन पत्र दाखिल किया।

तत्पश्चात उन्होंने छत्रसाल स्टेडियम में आयोजित संसदीय क्षेत्र के हजारों कांगेस कार्यकर्ताओं के सभा को संबोधित किया। इस अवसर पर विंध्य क्षेत्र के नामी गिरामी नेताओं ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई |5 घंटे तक चली इस सभा में लगभग 10 हजार कांग्रेस कार्यकर्ता निरंतर उपस्थित रहे। इस अवसर पर भाजपा को करार झटका भी लगा है|भाजपा के निवर्तमान अध्यक्ष लालचंद गुप्ता एवं नगर पालिका परिषद् सीधी के मौजूदा अध्यक्ष देवेन्द्र सिंह “मुन्नू”, भाजपा जिला मंत्री सुनीता सोनी सहित भाजपा पार्षद, मंडल अध्यक्षों सहित कार्यकर्ताओं ने आज अजय सिंह के हांथों कांग्रेस की सदस्यता ले ली |

सभा को संबोधित करते हुए श्री राहुल ने कहाकि यह संसदीय चुनाव आपके प्रतिष्ठा, मान सम्मान का चुनाव है। और जब कोई इसके सम्मान पर ठेस पहुंचाता है तो यहां के मतदाताओं ने उसका मुंह तोड़ जवाब दिया है। सीधी संसदीय क्षेत्र के मतदाताओं ने तिलक राज सिंह को एक नये चुनाव चिन्ह फूल चढ़ाती हुई महिला में वोट कर, चुनाव जिताया| 2004 में लोकसभा का उपचुनाव में मानिक सिंह सांसद चुने गए थे और उस चुनाव में प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह सहित उनके मंत्रिमंडल के 26 मंत्री डेरा डाले हुए थे । तब मैं और स्वर्गीय इंद्रजीत कुमार दो ही लोगों ने मोर्चा संभाल रखा था। इस चुनाव में फिर से वही चुनौती मिली है। जिसका सामना आप सभी के सहयोग से मैं और कमलेश्वर पटेल करेगें और हम सफल होंगे।

उन्होंने बताया कि 4 अप्रैल को जब मैं व्यौहारी विधानसभा क्षेत्र के दौरे पर था, तभी दिल्ली से शीर्ष नेतृत्व का फोन आया कि आपको सीधी से चुनाव लड़ना है। साथ ही यह जिम्मेदारी दी की सतना रीवा और शहडोल से भी चुनाव जिताना है । आप सभी के संबल पर मैंने यह जिम्मेदारी स्वीकार कर लिया है।

कल मैं धौहनी विधानसभा क्षेत्र के दौरे पर था 1957 में वह मझौली विधानसभा क्षेत्र था तब दाऊ साहब वहां से चुनाव लड़े थे उस समय के अनेक बुजुर्ग मिले और मुझसे कहा की 1957 के बाद दोबारा आप को वोट देने का अवसर मिला है । उन्होंने निवर्तमान भाजपा सांसद पर कटाक्ष करते हुए कहा कि 5 साल में उन्होंने क्या किया है ? यह उनके द्वारा गोद लिए गए गांव करवाही जाकर वहां की दुर्दशा देख ले तो इसी से पूरे लोकसभा क्षेत्र का पता चल जाएगा। यदि आपका सहयोग आशीर्वाद मिला तो मैं स्वर्गीय दाऊ साहब के सेवा की परंपरा को कायम रखूंगा।

प्रदेश के पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री कमलेश्वर पटेल ने संबोधित करते हुये कहाकि खाद्य सुरक्षा कानून, रोजगार गारंटी योजना, शिक्षा का अधिकार, सूचना का अधिकार कानून, राजीव गांधी विद्युतीकरण योजना, कांग्रेस पार्टी की देन हैं। जिसका मात्र नाम बदलकर भाजपा लाभ लेना चाहती है। कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने विधानसभा चुनाव में शिथिलता बरती है, जिसका खामियाजा भुगतना पड़ रहा है। लेकिन उसकी भरपाई का वक्त आ गया है। सीधी संसदीय क्षेत्र सहित विंध्य के चारों विधानसभा क्षेत्र में कांग्रेस उम्मीदवारों को विजयी बनायें।

सभा को सतना लोकसभा से उम्मीदवार राजाराम त्रिपाठी, गोटेगांव विधायक श्रीमती सुनीता पटेल, पूर्व मंत्री वंशमणि वर्मा, कमलेश्वर द्विवेदी, पूर्व सांसद रीवा देवराज सिंह पटेल, मानिक सिंह, पूर्व विधायक राम लखन पटेल, श्रीमती उषा चौधरी, श्रीमती विद्यावती पटेल, रामपाल सिंह, ब्योहारी से भाजपा विधायक शरद कोल के पिता जुगलाल कोल, जिला पंचायत रीवा अध्यक्ष अभय मिश्रा, पूर्व अध्यक्ष बबीता साकेत, सतना जिला पंचायत उपाध्यक्ष डॉ रश्मि पटेल, सिंगरौली की पूर्व महापौर रेनू शाह, राम अशोक शर्मा, ब्योहारी से संतोष शुक्ला, अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के लोकसभा प्रभारी हरिकेश त्रिपाठी, अखिल भारतीय ब्राह्मण संघ के अध्यक्ष मोहन लाल तिवारी, भाजपा से कांग्रेस में आये लालचंद्र गुप्ता, देवेन्द्र सिंह मुन्नू, दिनेन्द्र द्विवेदी, मनोज तिवारी, विष्णु बहादुर सिंह, शेषमणि पनिका ने भी संबोधित किया |

इस अवसर पर प्रदेश कांग्रेश महामंत्री डॉ महेंद्र सिंह चौहान, डा. मुजीब खान, शिव प्रसाद प्रधान, पूर्व विधायक यादवेन्द्र सिंह, सुखेन्द्र सिंह बन्ना, शहडोल जिला कांग्रेस अध्यक्ष आजाद बहादुर सिंह, सिंगरौली कांग्रेस अध्यक्ष तिलकराज सिंह, सतना जिला कांग्रेस अध्यक्ष दिलीप मिश्र सहित संभाग एवं जिलों के कांग्रेस के वरिष्ठ नेता, बूथ स्तर के कार्यकर्त्ता उपस्थित रहे ।