मुख्यमंत्री साक्षरता पुरुस्कार—ग्राम पंचायतों, विकासखंडों एवं जिलों से 26 जनवरी तक आवेदन

भोपाल (आनंद मोहन गुप्ता)——-राज्य शासन द्वारा साक्षरता के क्षेत्र में कार्य कर रहे मैदानी अमले के प्रोत्साहन के लिए मुख्यमंत्री साक्षरता पुरुस्कार की स्थापना की गई है।

राज्य साक्षरता मिशन प्राधिकरण द्वारा साक्षर भारत योजना अंतर्गत घोषित इन पुरुस्कारों के तहत सर्वश्रेष्ठ कार्य करने वाली 5 ग्राम पंचायतों, 3 विकासखंडों एवं एक ज़िले को मुख्यमंत्री साक्षरता पुरुस्कार से सम्मानित किया जायेगा।

प्रत्येक श्रेणी के अंतर्गत पुरुस्कृत होने वाली संस्थाओं को प्रशस्ति पत्र और सम्मान प्रतीक प्रदान किये जायेंगे। साक्षरता के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य/प्रदर्शन करने वाली ग्राम पंचायतें, विकासखंड और ज़िले 25 जनवरी तक अपने आवेदन स्पीड़ पोस्ट से संचालक, राज्य शिक्षा केन्द्र, पुस्तक भवन, बी-विंग, अरेरा हिल्स, भोपाल के पते पर प्रेषित कर सकते हैं। इन पुरुस्कारों की विस्तृत नियमावली एवं प्रक्रिया की जानकारी राज्य साक्षरता मिशन प्राधिकरण की वेबसाइट www.educationportal.mp.gov.in पर देखी जा सकती है।

उल्लेखनीय है कि वर्ष 2016-17 में मध्यप्रदेश में 24 लाख 61 हज़ार से अधिक प्रौढ़ निरक्षरों ने प्रशिक्षण उपरांत साक्षरता परीक्षाओं में सफलता प्राप्त की है। वहीं प्रदेश के 31 सांसद आदर्श ग्रामों में निरक्षर लगभग 24 हज़ार प्रौढ अब नवसाक्षर बनकर सामने आयें हैं।

मघ्यप्रदेश को इस उपलब्धि के लिए गत वर्ष 3 राष्ट्रीय साक्षरता पुरुस्कार भी प्राप्त हुए हैं। राज्य में इन उत्कृष्ट कार्यो को प्रोत्साहित करने के लिए शासन द्वारा मुख्यमंत्री साक्षरता पुरुस्कारों की स्थापना की गई है।