मातनहेल व साल्हावास में बेटियों की लोहड़ी

झज्जर———– महिला एवं बाल विकास विभाग हरियाणा की ओर से शनिवार का मातनहेल व साल्हावास खण्डों में लोहड़ी उत्सव मनाया गया। बेटियों को समर्पित लोहड़ी कार्यक्रमों में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं व महिलाओं ने मंगल गीत गाकर बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदेश दिया।
2
सीडीपीओ सुनीता सभ्रवाल ने जानकारी देते हुए बताया कि उपायुक्त सोनल गोयल के मार्गदर्शन में बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम के दौरान अनेक कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे है। जिसके चलते झज्जर जिला में लिंगानुपात की स्थिति में लगातार सुधार आया है। वर्ष 2017 में लिंगानुपात की स्थिति 920 रही है जोकि वर्तमान दशक में सबसे अधिक है।

उन्होंने कहा कि बेटियों की लोहड़ी कार्यक्रम के आयोजन का प्रमुख उद्देश्य भी यहीं है कि समाज में बेटा व बेटी के अंतर को समाप्त किया जा सके। उन्होंने बताया कि मातनहेल व साल्हावास खण्ड में आयोजित लोहड़ी कार्यक्रमों में बड़ी संख्या में महिलाओं ने भागीदारी करते हुए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संकल्प लिया।

सीडीपीओ ने बताया कि इस अवसर पर बेटी के जन्म पर माताओं ने पौधरोपण भी किया। साथ ही नाच-गाकर लोहड़ी को हर्षोल्लास से मनाया। उन्होंने बताया कि खण्ड स्तर पर आयोजित कार्यक्रम के दौरान महिलाओं ने रंगोली आदि रचनात्मक प्रतिभा का भी प्रदर्शन किया।