मध्यप्रदेश को शांति का टापू बनाए रखने में सहयोग दें

भोपाल (घनश्याम सिरसाम/ऋषभ जैन)————-मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि मंदसौर जिले सहित प्रदेश के सभी नागरिक मध्यप्रदेश को शांति का टापू बनाए रखने में सहयोग दें।

उन्होंने कहा कि किसानों को उनकी उपज का अच्छे से अच्छा दाम मिल सके इसके लिए सरकार किसान बाजार का निर्माण करेगी। इस किसान बाजार में उत्पादक अपनी उपज लाकर बेच सकेगा और अधिकतम मूल्य पा सकेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि हमने व्यापार उन्नयन बोर्ड का गठन कर दिया है, ताकि प्रदेश में व्यापार व्यवसाय को और अधिक बढ़ावा मिले।

उन्होंने कहा कि म.प्र. सरकार किसानों से 8 रूपये प्रति किलो की दर से प्याज, 5050 रूपये प्रति क्विंटल की दर से तुअर और 5225 रूपये प्रति क्विंटल की दर से मूंग खरीदेगी। हम किसानों को अधिकाधिक नकद भुगतान दिलाने का प्रयास करेंगे।

मंदसौर जिले में बीते सप्ताह हुई घटना का जिक्र करते हुए इसे बेहद दुर्भाग्यपूर्ण बताकर मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि इस घटना से वे बेहद व्यथित हैं, द्रवित हैं, दुखी हैं। वे घटना की जानकारी मिलने की रात चैन से सो नहीं पाये। उन्होंने इस घटना में मृतकों के प्रति अपनी गहन संवेदनाएं व्यक्त करते हुए कहा कि सरकार इस घटना की हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज से न्यायिक जांच करा रही है।

न्यायिक जांच में जो कोई भी इस घटना के लिए दोषी पाया जायेगा, उसको निश्चित तौर पर सजा मिलेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं जनता का सेवक हूं और इसी नाते आज आपके बीच मंदसौर आया हूं, ताकि पीड़ितों के बीच जाकर उनकी पीड़ा सुन सकूं और दुख की इस घड़ी में शरीक हो सकूं।

उन्होंने क्षेत्रीय नागरिकों से अपील की कि हम सभी अपने प्रदेश की सदियों से चली आ रही शांतिप्रिय संस्कृति के अनुरूप प्रेम व सद्भाव से रहंे। उन्होंने कहा कि जिन लोगों ने उपद्रव और अराजकता फैलाकर लूटपाट की है, ऐसे अराजक तत्व पहचाने जाएंगे और यकीनन वे किसी भी सूरत में बख्शे नहीं जाएंगे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मंदसौर जिले में हुई घटना में अपने परिजन को खोने वाले परिवारों के बैंक खाते में आरटीजीएस के जरिये एक-एक करोड़ रूपये की सहायता राशि हस्तांतरित कर दी गई है। उनके परिवार में जो भी नौकरी करने योग्य होगा, उसे सरकार नौकरी भी देगी। इसके अलावा जिन नागरिकों/छोटे-बड़े व्यवसायियों के मकान/दुकान, गोदाम, ठेला, गुमटी या अन्य व्यवसायिक संपत्ति को नुकसान पहुंचा है, सरकार बेहद उदार हृदय के साथ उनके संपूर्ण नुकसान की समुचित भरपाई करने का प्रयास करेेगी। उन्होंने मंडी व्यापारियों से कहा कि किसानों की उपज को सरकारी समर्थन मूल्य पर ही खरीदें, ताकि किसी भी किसान को उसकी उपज का नुकसान न हो।

करीब ढाई घण्टे तक समाज के विभिन्न वर्गो के लोगों से जनसंवाद करने के दौरान मुख्यमंत्री श्री चौहान को कुल 45 सुझाव/समस्या/शिकायती आवेदन प्राप्त हुए। सभी की बात विस्तार से सुनने के बाद मुख्यमंत्री श्री चौहान ने एक-एक प्रश्न/समस्या का जवाब दिया और अच्छे सुझावों को सरकार के राजकाज में तत्काल अमल में लाने का आश्वासन भी दिया।

जनसंवाद कार्यक्रम में मंदसौर के लोकसभा सांसद श्री सुधीर गुप्ता, जिला पंचायत अध्यक्षा श्रीमती प्रियंका डॉ. मुकेशगिरी गोस्वामी, मनासा विधायक श्री कैलाश चावला, मल्हारगढ़ विधायक श्री जगदीश देवड़ा, मंदसौर विधायक श्री यशपाल सिंह सिसौदिया, नीमच विधायक श्री दिलीपसिंह परिहार, श्री देवीलाल धाकड़, श्री बंशीलाल गुर्जर, जिला केन्द्रीय सहकारी बैंक के अध्यक्ष श्री मदनलाल राठौर, अन्य स्थानीय जनप्रतिनिधिगण, चेम्बर ऑफ कॉमर्स मंदसौर के पदाधिकारी, दशपुर मंडी व्यापारी संघ के पदाधिकारी व अन्य व्यापारी, सर्राफा व किसाना व्यवसायी, विक्रेता, छोटे दुकानदार, किसान, सिंधी समाज के पदाधिकारी, वकील, कुमावत समाज के पदाधिकारी, लोकतंत्र सेनानी संघ के पदाधिकारी, होटल व हलवाई संघ के पदाधिकारी सहित बड़ी संख्या में गणमान्य नागरिक व किसानबन्धु तथा पत्रकार मौजूद थे।