बिहार के सात स्वतंत्रता सेनानी ‘‘एटहोम‘‘ कार्यक्रम में सम्मानित—-महामहिम राष्ट्रपति

बिहार सूचना केन्द्र, नई दिल्ली— 09 अगस्त 2017ः महामहिम राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद द्वारा बिहार के सात स्वतंत्रता सेनानियों को आज राष्ट्रपति भवन में आयोजित ‘‘एटहोम‘‘ कार्यक्रम में सम्मानित किया गया। सम्मानित होने वाले स्वतंत्रता सेनानियों के बारे में संक्षिप्त विवरण निम्नवत हैः-

??

महामहिम राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंदः बिहार के सात स्वतंत्रता सेनानी ‘‘एटहोम‘‘ कार्यक्रम में सम्मानित

1. श्री कृष्णा नन्द यादव–जिला-मधेपुरा–10 अगस्त 1942 को सैकड़ों लोगों के साथ मधेपुरा थाना पर हमला कर थाने में तोड़-फोड़ किया। सिविल कोर्ट, मधेपुरा पर भी हमला किये साथ ही विभिन्न स्थानों पर रेल पटरी/तार एवं टेलिफोन का पोल उखाड़ कर फेंक दिये।

2. श्री चन्द्रशेखर झा—जिला-समस्तीपुर–16 अगस्त, 1942 को हजारों की संख्या में भीड़ के साथ सिंधिया थाने पर झंड़ा फहराया, थाना के जमादार को उल्टा लटकाकर झंड़ा से पीटा एवं थाना से हथियार लूट कर भागे। बाद में बैंक को भी लूटा।

3. श्री रामदेव सिंह- जिला-लखीसराय– साथियों के साथ लखीसराय स्टेशन पर धावा बोलकर माल गोदाम में आग लगायें एवं रेल पटरी उड़ाये। अंग्रेजी हुकूमत द्वारा गोली चलायी गयी जिसमें आठ लोग शहीद हो गये। शाही द्वारा पर झंडा फहराने का काम किये एवं आन्दोलन में शरीक रहे।

4. श्री मुंशी सिंह- जिला-सिवान-16 अगस्त, 1942 को काँग्रेस नेताओं के आवाह्न पर स्कूल छोड़कर महाराजगंज थाना को जलाने के लिए सैकड़ों लोगों के साथ पहुंचे। जहाँ अंग्रेजी हुकूमत द्वारा गोली चलाने से कई लोग शहीद हुए। बाद में भूमिगत रहकर आन्दोलन का क्षेत्रिय स्तर पर नेतृत्व किया।

5. श्री तारणी प्रसाद सिंह- जिला-दरभंगा–गाँव का पुल तोडे, पोस्ट आॅफिस बहेड़ी को जला दिये। टेलिफोन तार एवं पोल उखाड़ दिये। पुलिस से बचने के लिए नेपाल भाग गये तथा वही से आन्दोलन को चलाते रहे।

6. श्री सत्य नारायण चौधरी- जिला-दरभंगा स्वतंत्रता आन्दोलन के दौरान भूमिगत रहकर आन्दोलनकारी कैंपो में संदेश का गुप्त रूप से आदान-प्रदान करते थे।

7. श्री राम एकबाल शर्मा- जिला-अरवल–अगस्त आन्दोलन के दौरान हजारों की संख्या में साथियों के साथ अरवल थाने पर झंडा फहराया एवं तोड़-फोड़ किया तथा जेल को भी लूटा गया। बाद में भूमिगत रहकर आन्दोलन में भाग लिया।

लोकेश कुमार झा सहायक निदेशक, बिहार सूचना केन्द्र, नई दिल्ली।