बागछाल पुल का निर्माण पूरा करने के लिए 16 करोड़ रुपये की अतिरिक्त धन-राशि

शिमला —- मुख्यमंत्री श्री वीरभद्र सिंह ने बिलासपुर जिले के झण्डूता विधानसभा क्षेत्र के घंडीर में एक विशाल जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि बागछाल पुल का निर्माण पूरा करने के लिए 16 करोड़ रुपये की अतिरिक्त धन-राशि स्वीकृत की गई है और कार्य ‘गैमन इण्डिया प्राईवेट लिमिटेड’ को सौंपा गया है तथा शेष कार्य को अगले दो वर्षों में पूरा करने के निर्देश दिए गए हैं।
1

श्री वीरभद्र सिंह ने कहा कि इस पुल का निर्माण कार्य पूरा होने पर गोबिन्द सागर के बांईं ओर की 17 पंचायतों की 20000 की आबादी, जबकि नदी के दायें छोर अर्थात श्री नयना देवी जी और झण्डूता को जोड़ती हुई 19 पंचायतों की 25000 की आबादी लाभान्वित होगी। यह पुल नदी के दोनों किनारों की बस्तियों की दूरी को बिलासपुर से लगभग 70 किलोमीटर तक कम करेगा तथा स्वारघाट से झण्डूता की दूरी केवल 13 किलोमीटर रह जायेगी जो अभी 100 किलोमीटर से अधिक है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस परियोजना का निर्माण उनका सपना था, लेकिन इसके निर्माण में देरी हुई है और अब यह शीघ्र पूरा होने जा रहा है। उन्होंने कहा कि गैमन इण्डिया ने जमीन पर इसके अलंकार का कार्य बंद कर दिया, क्योंकि घाट के आस-पास की परतें वैसी नहीं थीं, जो परिकल्पना नीवं के दौरान डिजाईन की गई थी। हालांकि, पुल की नीवं के लिए संशोधित प्रस्ताव प्रस्तुत किया गया है और अब पुनः गैमन इण्डिया ने पुल का निर्माण पूरा करने का कार्य शुरू कर दिया है।

श्री वीरभद्र सिंह ने बरठीं में 30 विस्तरों की सुविधा के साथ प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के स्तरोन्ययन की घोषणा की। उन्होंने साथ लगती तीन पंचायतों क्रमशः डाहड, दाड़ी-बाड़ी तथा नखलेड़ा में किसी भी स्थान पर प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र खोलने की घोषणा की ताकि इन तीनों पंचायतों की स्वास्थ्य आवश्यकताएं पूरी हो सकें।

उन्होंने कहा कि झण्डूता में पुलिस स्टेशन शीघ्र स्थापित किया जाएगा और इस सम्बन्ध में पुलिस महानिदेशक को इसे क्रियाशील बनाने के निर्देश दिए।

उन्होंने कलोल में उप-तहसील भवन का निर्माण कार्य शीघ्र पूरा करने के भी निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री ने बलोह तथा दाड़ी में आयुर्वेदिक औषधालय खोलने तथा प्राथमिक पाठशाला रियाणा को माध्यमिक पाठशाला में स्तरोन्नत करने की घोषणाएं कीं।

उन्होंने कलोल तथा दाड़ी में जनसभाओं को सम्बोधित किया और शिक्षा, स्वास्थ्य, सामाजिक कल्याण इत्यादि क्षेत्रों में गत साढ़े चार वर्षों के दौरान हुए विकास की चर्चा की।

मुख्यमंत्री ने 3.3 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित श्री नयना देवी जी में पार्किंग परिसर का वीडियो कांॅन्फ्रेसिंग के माध्यम से लोकार्पण किया।

सीर खड्ड पर 3 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित भल्लू-बल्योर पुल का भी लोकार्पण किया। उन्होंने कहा कि ठेकेदारों की वजह से कार्य में काफी देरी हुई है, क्योंकि बार-बार निविदाएं आमंत्रित करनी पड़ी और अन्ततः पुल को जनता को समर्पित किया गया।

उन्होंने कलोल के डुडियां (टिहरी) में 14.50 लाख रुपये की लागत से निर्मित आयुर्वेदिक औषधालय का भी लोकार्पण किया।

मुख्यमंत्री ने जून, 2016 में अपने दौरे के दौरान राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला नखलेहड़ा के अतिरिक्त खण्ड के निर्माण की घोषणा की थी।

उन्होंने 74 लाख रूपये की लागत से बनने वाले इस भवन के प्रशासनिक खण्ड की आधारशिला, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला डाहड में 27.20 लाख रुपये की लागत से निर्मित होने वाले शैक्षणिक खण्ड की आधारशिलाओं के अतिरिक्त राजकीय उच्च पाठशाला बरोहा तथा दोकडू में क्रमशः 31 लाख रुपये तथा 49.53 लाख रुपये की लागत से निर्मित होने वाले अतिरिक्त खण्डों की भी आधारशिलाएं रखीं।

मुख्यमंत्री ने दाड़ी-बारी तथा इसके आसपास के गांवों के लिए उठाऊ पेयजल आपूर्ति योजना की आधारशिला रखी तथा 5.44 करोड़ रूपये की लागत से बनने वाली समलेटा भटेड़ उठाऊ पेयजल योजना के सम्वर्द्धन की भी आधारशिला रखी।

इस योजना से डमली, दाड़ी-बाडी, नखलेड़ा तथा डाहड़ ग्राम पंचायतों के 17 गांवों की लगभग 6700 की आबादी को पेयजल की सुविधा उपलब्ध होगी।

उन्होंने कलोल में 1.21 करोड़ रूपये की लागत से बनने वाले उप-तहसील भवन की आधारशिला रखी।

मुख्यमंत्री ने राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला घन्डीर में कक्षाएं शुरू करने की घोषणा की तथा राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला भड़ोलीकलां में 42.71 लाख रूपये, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला बलोह में 59.58 लाख रूपये तथा राजकीय उच्च पाठशाला बलघाड़ में 63.76 लाख रूपये की लागत से बनने वाले अतिरिक्त शैक्षणिक खण्डों की आधारशिलाएं भी रखीं।

उन्होंनें झण्डुता तहसील में तलाई से बघारू तक सरयाली खड्ड में 6.65 करोड़ रूपये की लागत से बाढ़ नियंत्रण कार्य की आधारशिला रखी, जिससे 37.50 हैक्टेयर भूमि को बाढ़ से बचाया जा सकेगा।

20-सूत्रीय कार्यक्रम क्रियान्वयन समिति के अध्यक्ष श्री रामलाल ठाकुर, विधायक श्री बम्बर ठाकुर, पूर्व विधायक श्री बीरूराम किशोर, श्री बाबू राम गौतम, श्री तिलकराज शर्मा, जिला कांग्रेस समिति के अध्यक्ष श्री कमलेन्द्र कश्यप, जिला परिषद अध्यक्ष श्री अमरजीत बग्गा, एपीएमसी के अध्यक्ष श्री विवेक कुमार, जिला कांग्रेस कमेटी के महासचिव श्री संदीप सांख्यान, जिला परिषद सदस्य श्री सुभाष ठाकुर, जिला महिला कांग्रेस कमेटी की अध्यक्ष श्रीमती अंजना धीमान, किसान कांग्रेस के प्रधान श्री रतन सिंह ठाकुर सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति भी इस अवसर पर उपस्थित थे।