बहुजन समाज के अधिकार मान्यवर कांशी राम जी की सामाजिक क्रांति से ही सम्भव : लक्ष्य

दिल्ली —– भारतीय समन्वय संगठन (लक्ष्य) की दिल्ली टीम ने बहुजन नायक मान्यवर कांशी राम जी के परिनिर्वाण दिवस के अवसर पर एक “बहुजन आंदोलन की दिशा व दशा” पर एक संगोष्ठी का आयोजन दिल्ली के डाबरी पंचशील बौद्ध विहार में किया गया जिसमे लोगो ने बढ़चढ़कर हिस्सा लिया व् बहुजन नायक मान्यवर कांशी राम जी के कार्यो को याद करते हुए उनको श्रद्धांजलि अर्पित की !
1
लक्ष्य कमांडर मिलाप सिंह ने मुख्य वक्ता के रूप में बोलते हुए कहा कि मान्यवर कांशी राम जी ने बहुजन समाज में एक राजनीति क्रांति की लौ जलाई ! उन्होंने सोती हुई कौम को जगाया व् उसको हुकमरान बनाया ! उन्होंने जातियों में बटे हुए बहुजन समाज को एकता में बांधकर देश की राजनीती में एक भूचाल ला दिया ! मान्यवर कांशी राम जी ने सिद्ध कर दिया कि एक अगर दबा कुचला समाज ठान ले तो वो देश का हुकमरान बन सकता है !

लक्ष्य की हरियाणा कमांडर कविता जाटव ने लोगो से आवाहन करते हुए कहा कि वो मान्यवर कांशी राम जी के बताये मार्ग पर चले तो ये उनके प्रति एक सच्ची श्रद्धांजलि होगी ! उन्होंने ईमानदारी से बहुजन समाज के उत्थान के लिए अपना जीवन निछावर कर दिया ! उन्होंने कहा की आज जरुरत है की मान्यवर कांशी राम जी वाली सामाजिक क्रांति को मजबूत किया जाये ! उन्होंने कहा कि बहुजन समाज को अपने अधिकारों के लिए मान्यवर कांशी राम जी वाली सामाजिक क्रांति को अपनाना होगा !
लक्ष्य के दिल्ली चीफ कमांडर माधव कृष्ण यादव ने बताया की लक्ष्य की टीमें देश भर में मान्यवर कांशी राम जी वाले कैडर कैम्प लगा कर बहुजन समाज को जागरूक करने में लगी है ! उन्होंने लोगो से आग्रह करते हुए कहा की वो भी लक्ष्य की इस सामाजिक क्रांति में शामिल होये !

इस संगोष्ठी को जयपाल सिंह, सुरेंद्र पाल सिंह, गंगा लाल गौतम, दौलत राम व् लाल सिंह गौतम ने भी सम्भोधित किया ! कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रेमलता गौतम ने की व् संचालन प्रियंका बौद्ध ने किया !