बजट 2018-19 प्रस्तुत

जयपुर——— मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने विधानसभा में राज्य बजट 2018-19 प्रस्तुत करने के दौरान निम्न पंक्तियां पढ़कर अपनी भावनाएं व्यक्त की ः-
1
मैं किसी से बेहतर करूं, क्या फर्क पड़ता है।
मैं किसी का बेहतर करूं, बहुत फर्क पड़ता है।

ये मंजिलें बड़ी जिद्दी होती हैं,
हासिल कहां नसीब से होती हैं।
मगर वहां तूफां भी हार जाते हैं,
कश्तियां जहां जिद पे होती हैं॥

मंजिल यूं ही नहीं मिलती दोस्तों,
इक जुनून जगाना पड़ता है।
पूछा चिड़िया से घाेंसला कैसे बनता है
बोली- तिनका तिनका उठाना पड़ता है।