प्रधानमंत्री आवास योजना 15 जुलाई तक सर्वेक्षण कार्य // योग दिवस–

बहादुरगढ़, 15 जून———– केंद्र व प्रदेश सरकार की नीति सबका साथ-सबका विकास की मूल अवधारणा के तहत प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी को अमलीजामा पहनाने के लिए शहरी निकास की ओर से डिमांड सर्वे का काम शुरू किया गया है। शहरी निकाय के अधिकारी जिले के शहरी क्षेत्रों में 15 जुलाई तक पात्र परिवारों की सूची तैयार करेंगे जिनके पास अपना घर नहीं है।

उन्होंने कहा कि सरकार ने लक्ष्य रखा है कि वर्ष 2022 तक सभी के पास अपना मकान होना चाहिए। योजना का लाभ लेने के लिए पात्र लोगों को नगरपरिषद के पास 15 जुलाई तक पंजीकरण करवाना अनिवार्य है। 15 June BHG SDM01
पात्रता के लिए जरूरी कदम : एसडीएम जगनिवास ने प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी के बारे में बताया कि लाभार्थी आर्थिक दृष्टि से कमजोर वर्ग के परिवार की वार्षिक आय 3 लाख रूपए, निम्र वर्ग की आय 3 लाख रूपए से 6 लाख रूपए, मध्यम वर्ग-1 की रूपए 6 लाख से 12 लाख एवं मध्यम वर्ग-2 की वार्षिक आय राशि रूपए 12 लाख से 18 लाख तक होनी अनिवार्य है।

लाभार्थी का आधार कार्ड एवं बैंक खाता होना अनिवार्य है। देश के किसी भी भाग में लाभार्थी अथवा परिवार के किसी भी सदस्य (पति, पत्नि एवं अविवाहित पुत्र/पुत्री) के नाम पर कोई पक्का मकान न हो। लाभार्थी ने पूर्व में केंद्रीय/राज्य सरकार की किसी भी आवासीय योजना के अंतर्गत लाभ न लिया हो।

लाभार्थी योजना आरंभ तिथि 17 जून से पूर्व राज्य का एवं वर्तमान में संबंधित शहर का निवासी हो अथवा केंद्रीय/राज्य सरकार के विभाग/उपक्रम का कर्मचारी हो या संबंधित शहरी क्षेत्र की औद्योगिक/वाणिज्यिक इकाई का कर्मचारी, जो कि लेबर वैल्फेयर बोर्ड हरियाणा से पंजीकृत हो। अनाधिकृत कालोनियों के निवासी जिनके पास निर्मित पक्का आवास है। इस योजना में लाभ के पात्र नहीं होंगे।
अनिवार्य दस्तावेज एसडीएम जगनिवास ने जानकारी देते हुए बताया कि पहचान पत्र के रूप में आधार कार्ड व बैंक खाता चालू स्थिति में तथा 17 जून से पूर्व के निवास सत्यापन के लिए प्रार्थी द्वारा वोटर कार्ड/टेलीफोन बिल/बिजली का बिल/राशनकार्ड/पासपोर्ट/बैंक पास बुक/पैंशन बुक व आधार कार्ड का होना अनिवार्य है। जिन आवेदकों ने ऑनलाइन वैब पोर्टल आवेदन किया है उनके द्वारा सफल पात्र होने के लिए पात्रता से संबंधित सभी अनिवार्य दस्तावेज प्रस्तुत करना अनिवार्य है अन्यथा निर्धारित समय अवधि के पश्चात ऑनलाइन आवेदन स्वत: निरस्त माना जाएगा।

10 रूपए के गैर न्यायिक स्टाम्प पेपर व तीन नवीनतम फोटो तथा शपथ पत्र व आय प्रमाण पत्र। योग्य लाभार्थी वर्तमान भूखंड/आवास का नक्शा जो स्थानीय प्रारूपकार/वास्तुकार द्वारा तैयार एवं सत्यापित किया गया हो, जिनमें नवीन आवास का निर्माण अथवा प्रस्तावित/निर्माण स्पष्ट रूप से दर्शाया हो, सलंग्र करना अनिवार्य है। भूखंड/आवास के स्वामित्व से संबंधित रजिस्ट्री/रजिस्टर्ड क्रय-विक्रय पत्र अथवा किसी राजकीय विभाग/उपक्रम/पूर्व पंचायत द्वारा जारी आवंटन पत्र दस्तावेज/जमाबंदी की प्रमाणित/नोटरराइजड प्रति होना जरूरी है।
ऋण आधारित सब्सिडी योजना : ऐसे लाभार्थी जिनके पास स्वयं के आवास अथवा भू-खण्ड से सम्बन्धित रजिस्ट्री अथवा आवंटन पत्र या लम्बी अवधि का पट्टा(लॉग टर्म लीज) की प्रति उपलब्ध हो।

ऐसे लाभार्थी जिनके पास स्वयं का आवास अथवा भूखण्ड नहीं है, आय पात्रता के अनुसार नवीन निर्मित आवास/पुन: क्रय आवास हेतु सस्ती ब्याज दर पर गृह ऋण प्राप्त करने का पात्र होगा। आर्थिक रूप से कमजोर/निम्र आय/मध्यम आय वर्ग(श्रेणी 1 एवं 2) के परिवारों के लिए मान्य होगा।

आर्थिक दृष्टि से कमजोर वर्ग के लिए नए निर्माण एवं विस्तार की सीमा अधिकतम 30 वर्ग मीटर कारपेट क्षेत्रफल, निम्र आय वर्ग के लिए 60 वर्ग मीटर कारपेट क्षेत्रफल तक देय होगी।

मध्यम वर्ग श्रेणी-1 के लिए नव-निर्मित फलैट/आवास क्रय, पुर्नक्रय, नए निर्माण एवं विस्तार की सीमा अधिकतम 90 वर्ग मीटर एवं मध्यम आय वर्ग श्रेणी-2 के लिए 110 वर्ग मीटर कारपेट क्षेत्रफल तक।

राशि रूपए 6 लाख तक के ऋण पर 6.5 प्रतिशत वार्षिक दर से ब्याज सब्सिडी 20 वर्ष की अवधि तक देय है, 6 से 9 लाख रूपए तक 4 प्रतिशत, 9 से 12 लाख रूपए तक 3 प्रतिशत वार्षिक दर से ब्याज सब्सिडी 20 वर्ष की अवधि तक देय है।

12 लाख रूपए से अधिक राशि पर ऋण में ब्याज सब्सिडी का लाभ देय नही होगा। अनाधिकृत कब्जे वाले क्षेत्र एवं अनाधिकृत कालोनी से संबंधित प्रार्थी जिनके पास स्वयं के स्वामित्व का भूखंड है, इस घटक के अंतर्गत लाभ के पात्र नहीं होगें।

योग दिवस—-उपमंडल स्तर पर 21 जून को मनाए जाने वाले अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की तैयारियां आरंभ हो गई हैं। एसडीएम जगनिवास ने कहा कि शहर के रेलवे रोड स्थित शहीद ब्रिगेडियर होशियार सिंह स्टेडियम परिसर में बहादुरगढ़वासी बुधवार, 21 जून को एकसाथ योग करेंगे।

उन्होंने कहा कि 19 जून को योग दिवस के उपलक्ष्य में अंतिम रिहर्सल होगी और 21 जून की सुबह योग दिवस पर बहादुरगढ़वासी एकसाथ योग का प्रदर्शन करते हुए सुखद स्वास्थ्य की दिशा में कदम बढ़ाएंगे।

उन्होंने उपस्थित अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि योग प्रशिक्षण कार्यक्रम में सभी अधिकारी समय पर उपस्थित रहें और आस-पास के लोगों को भी इस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए प्रेरित करें।

बैठक में तहसीलदार नरेंद्र कुमार के साथ विभिन्न विभागों के अधिकारीगण मौजूद रहे।