पी0ए0सी0 ने 69 वर्ष—गौरवशाली इतिहास

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पी0ए0सी0 ने 69 वर्ष के अपने गौरवशाली इतिहास के दौरान कई दुरूह एवं चुनौतीपूर्ण अवसरों पर अपनी बहुत महत्वपूर्ण सेवाएं दी हैं।
1
अंतर्राष्ट्रीय सीमाओं की चैकसी, घुसपैठियों की रोकथाम, उग्रवाद एवं नक्सलवाद के विरुद्ध अभियान, विधि-व्यवस्था स्थापित करने तथा निष्पक्ष व शांतिपूर्ण मतदान कराने मंे, उत्तर प्रदेश पी0ए0सी0 ने अपनी निष्ठा, निष्पक्षता, व्यावसायिक दक्षता, साहस एवं वीरता के जो मापदण्ड स्थापित किए हैं, वह पी0ए0सी0 ही नहीं, किसी भी सशस्त्र बल के लिए आदर्श हैं।

विभिन्न चुनौतीपूर्ण अवसरों पर पी0ए0सी0 जिन प्रदेशों में कार्यरत रही है, उन प्रदेशवासियों के दिलों में पी0ए0सी0 ने अपनी अच्छी छवि अंकित की है। प्रदेश की कानून-व्यवस्था को बनाए रखने में पी0ए0सी0 की महत्वपूर्ण भूमिका स्वतः सिद्ध है। गुजरात विधान सभा चुनाव-2017 को सकुशल सम्पन्न कराने में पी0ए0सी0 दलों की सराहनीय भूमिका रही है।

मुख्यमंत्री जी ने यह विचार आज यहां 35वीं वाहिनी पी0ए0सी0 में आयोजित ‘पी0ए0सी0 दिवस समारोह-2017’ को सम्बोधित करते हुए व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि विभिन्न त्यौहारों, मेलों, विशेषतः विश्व प्रसिद्ध प्रयाग के कुम्भ को सकुशल सम्पन्न कराने के साथ-साथ, अयोध्या, मथुरा एवं काशी सहित अन्य महत्वपूर्ण धार्मिक स्थलों, मा0 न्यायालयों एवं अतिविशिष्ट /विशिष्ट महानुभावों की सुरक्षा में भी पी0ए0सी0 की महत्वपूर्ण भूमिका है। प्रत्येक वर्ष मानसून के दौरान पी0ए0सी0 की बाढ़ राहत

कम्पनियां, बाढ़ से प्रभावित लोगों के जान-माल की सुरक्षा एवं बचाव तथा राहत कार्य में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं। ए0टी0एस0 एवं एस0टी0एफ0 जैसे महत्वपूर्ण संगठनों में भी पी0ए0सी0 के ही कमाण्डो तैनात हैं। इसके अलावा सी0आई0एस0एफ0 की तर्ज पर लखनऊ मेट्रो की सुरक्षा का कार्य भी पी0ए0सी0 द्वारा ही किया जा रहा है। नोएडा मेट्रो की भी सुरक्षा पी0ए0सी0 द्वारा ही किया जाना प्रस्तावित है।

योगी जी ने कहा कि वर्तमान में पी0ए0सी0 की 33 वाहिनियों में 273 कम्पनियां स्वीकृत हैं। इनमें से 199 कम्पनियां क्रियाशील हैं जबकि 74 कम्पनियां अक्रियाशील हैं। इन अक्रियाशील कम्पनियों को क्रियाशील किए जाने के लिए 18 हजार जवानों की भर्ती की प्रक्रिया प्रचलित है।

एस0डी0आर0एफ0 की एक वाहिनी के गठन के पश्चात उसकी प्रस्तावित 06 कम्पनियों में से प्रारम्भिक चरण में 03 कम्पनियां गठित की जा चुकी हैं। अगले चरण में शेष 03 कम्पनियां गठित होना प्रस्तावित है।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा दुधवा टाइगर रिजर्व तथा किरतर्निया घाट में बाघों की सुरक्षा/संरक्षण एवं अवैध शिकार की रोकथाम हेतु गठित स्पेशल टाइगर प्रोटेक्शन फोर्स में भी पी0ए0सी0 की महत्वपूर्ण सहभागिता है।
उन्होंने कहा कि 13 दिसम्बर, 2001 को भारतीय संसद एवं 05 जुलाई, 2005 को अयोध्या में हुए हमलों के दौरान आतंकवादियों को मार गिराने में पी0ए0सी0 की अहम भूमिका रही है। उन्होंने आशा व्यक्त की कि यह बल आगे भी इसी प्रकार पूर्ण निष्ठा, मनोयोग एवं परिश्रम के साथ अपने कर्तव्यों का निर्वहन करता रहेगा।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री जी ने 07 अगस्त, 2017 से 16 अगस्त, 2017 तक लाॅस एंजिल्स (यू0एस0ए0) में आयोजित वर्ल्ड पुलिस एवं फायर गेम्स एथलेटिक्स प्रतियोगिता में पी0ए0सी0 के प्लाटून कमाण्डर श्री चन्द्रहास कुशवाहा द्वारा स्वर्ण/रजत/कांस्य पदक प्राप्त किए जाने पर उन्हें सम्मानित किया।

इससे पूर्व कार्यक्रम स्थल पहुंचने के उपरान्त मुख्यमंत्री जी को गार्ड आॅफ आॅनर दिया गया। उनके समक्ष विभिन्न बैंडों द्वारा प्रदर्शन करने के साथ-साथ कमाण्डोज़/कैमोफ्लाज, मलखम्ब/कुश्ती का प्रदर्शन भी किया गया। उन्होंने इस अवसर पर आयोजित प्रदर्शनी का उद्घाटन/अवलोकन भी किया।