पाठशाला से अब गुरु जी के लिये लोटाशाला

1बिहार सरकार ने हाईस्कूल के शिक्षकों को अब लोटे की निगरानी का जिम्मा सौंपा है.

बीईओ की पत्र जारी—–

—शिक्षकों को ड्यूटी के लिए पत्र जारी.

—प्रधानाध्यापक शौचालय निगरानी का पर्यवेक्षक.

—निगरानी के लिये शिक्षकों को वार्ड स्तरीय सदस्य बनाया गया है.

प्रधानाध्यापक और शिक्षक शौचालय की राशि आवंटन, भौतिक सत्यापन, निर्माण से लेकर निरीक्षण तक का काम करेंगे.

नई जिम्मेवारी के साथ-साथ सप्ताह में दो दिन कार्यों की समीक्षा के लिये बैठक करने का भी दिशा-निर्देश जारी .

बीईओ के आदेश —

—शिक्षक सुबह-शाम अलग-अलग समय पर खुले में शौच करने वालों की निगरानी करेंगे.

—शिक्षक सुबह 5 बजे और शाम 4 बजे रोजाना खुले में शौच करने वालों का निरीक्षण करेंगे.