न्यूज़-24 और IBC-24— सिंगरौली के पत्रकारिता को कलंकित करने वाले पत्रकार को अविलंब अपने संस्था से हटाये .

प्रतिलिपि–

मुख्य मंत्री महोदय मध्य प्रदेश सरकार
गृह मंत्री मध्य प्रदेश सरकार
माननीय डी०जी०पी० महोदय मध्य प्रदेश
माननीय आई०जी० महोदय रीवा
माननीय कलेक्टर महोदय सिंगरौली
माननीय एस०पी० महोदय सिंगरौली
माननीय थाना प्रभारी वैढन

फरियादी नीरज गुप्ता पिता मुन्नी लाला गुप्ता मेन मार्केट बरगवां का मूल निवासी हैं और बहुत ही अति गरीब परिवार से तालुकात रखते हुए एक पैर से विकलांग भी है।

ध्यानाकर्षण —
यह कि विप्रो कम्पनी ने मुझ फरियादी की भविष्य ख़राब कर दी है। जिसकी शिकायत पुलिस के आला अधिकारीयो से करते हुए माननीय न्यायलय की शरण लिया गया है।

यह वार्दात माननीय उच्च न्यायालय, जबलपुर में दिशाधिन है —

आदेशित जनहित मामला क्र० 8283/15, माननीय मजिस्ट्रेट महोदय देवसर द्वारा
पंजीकृत मामला क्र० 621/16 और व माननीय अपर जिला न्यायालय देवसर द्वारा जारी नोटिस पुनर्बिचार मामला क्र० 500088/16 बिचाराधीन हैं ।

इसकी रिपोर्टिंग न्यूज़-24 और IBC-24 के सिंगरौली संबाददाता देवेन्द्र पाण्डेय
द्वारा किया गया । किन्तु मामले को प्रसारित न कर प्रत्यर्थी अज़ीम प्रेमजी; जो की देश के 3 सबसे बड़े उद्योगपति हैं, से लाखों रुप्ये लेकर मामले को दवा दिया गया है।

जिसकी शिकायत पुलिस अधिकारियों से करने के साथ ही माननीय मजिस्ट्रेट महोदय देवसर में एक परिवाद दर्ज कराई गई है जो न्यायलय में विचाराधिन हैं।

जैसे-जैसे–
माननीय न्यायलय की प्रक्रिया पंजीबध्य की ओर बढ़ता जा रहा हैं। आरोपी देवेन्द्र पाण्डेय द्वारा मुझ फरियादी को भद्दी गाली और जान से मरने की धमकीयां देना आम होता जा रहा हैं।

दिनांक 07/08/17
—लगातार व्हाटएप के 2 ग्रुप में मुझ फरियादी को भद्दी गाली दिया गया और दिनांक 09/08/17 को माननीय कलेक्टर और माननीय एस०पी० महोदय को एक अन्य मामले की शिकायत करने सिंगरौली मुख्यालय गया था ।

जहाँ सबसे पहले मुझ फरियादी द्वारा कलेक्टर आफिस जाकर एक अन्य मामले की शिकायत किया गया और उसके बाद पुन: एस०पी० आफिस आकर साहब का इंतजार करने लगा ।

इस दरम्यान, मुझ फरियादी के मोबाईल पर मोबाईल नम्बर 9424367096 से फोन आया कि विन्ध्यनगर पुलिस में देवेन्द्र पाण्डेय ने शिकायत किया है और एस०पी० साहब ने जाँच का आदेश दिया हैं।

मुझ फरियादी से वयान लेने के लिये थाना आने कहा गया ।

मुझ फरियादी द्वारा कहा गया कि मैं एस०पी० आफिस में एक अन्य मामले की शिकायत करने आया हूँ । मुझ फरियादी को बोला गया कि तुम वही रहो , मैं वही आ रहा हूँ।
इसके तुरंत बाद देवेन्द्र पाण्डेय खुद के 4-5 साथियों के साथ एस०पी० आफिस पहुँच गया जहां मुझ फरियादी था ।

माननीय अतिरिक्त एस०पी० सूर्यकान्त शर्मा साहब से देवेन्द्र पाण्डेय मिलने चला गया। थोड़ी देर बाद देवेन्द्र पाण्डेय खुद के साथियों के साथ बाहर आया और आफिस से बाहर चला गया ।

मुझ फरियादी द्वारा एक अन्य मामले की शिकायत माननीय अतिरिक्त एस०पी० सूर्यकान्त शर्मा साहब से करने के उपरांत घर जाने के लिये ऑटो से वैढन मार्केट कि ओर जा रहा था। जहां मैने देखा की देवेन्द्र पाण्डेय और उसके साथी हाथ में हांकी और तलवार जैसे कुछ औजार लिए मेरा इंतजार कर रहा है।

मुझ फरियादी द्वारा स्पष्ट देखा गया और खुद की जान बचाने के लिए माननीय न्यायलय परिसर में घुस गया ।

मोबाईल नम्बर 9329031634 से मुझ फरियादी के नंबर 7771822877 पर फोन करते हुए कहा की मैं शशिकान्त कुशवाहा बोल रहा हूं और कहा की तुम वैढन सरकारी हास्पिटल के पास हो।

मुझ फरियादी के साथ चाय पीने की जिद्द करने के बहाने मुझ फरियादी का लोकेसन मांग की —

मुझ फरियादी द्वारा कहा गया की मैं गोपाल अवस्थी दैनिक भास्कर के आफिस में मिलूँगा।

इसके बाद मेरे नंबर पर अलग-अलग नंबरो (9424367096,
9329031634, 7000854291, 7987205829, 9630117736, 7974867422) से फोन कर डराया और धमकाय।

मुझ फरियादी ने माननीय अतिरिक्त एस०पी० सूर्यकान्त शर्मा से फोन कर मामले की
सारी वारदात से अवगत कराया ।

माननीय अतिरिक्त एस०पी० साहब ने त्वरित कार्यवाही की ।

बदौलत —

मुझ फरियादी को उक्त समस्त आरोपियों द्वारा फोन आना बंद हुआ। जिसके बाद मुझ फरियादी बस से अपने घर बरगवां आया ।

ऐसी घटनायें मुझ फरियादी के साथ आये दिन होता रहता हैं जिसकी शिकायत मुझ
फरियादी ने पुलिस के आला अधिकारियों को किया है ।

किन्तु पुलिस के आला अधिकारीयों द्वारा मामले में उचित कार्यवाही न करने के कारण
दिनांक 09/08/17 को आरोपी देवेन्द्र पाण्डेय द्वारा खुद के साथियों द्वारा
मुझ पर हमला करने की कोशिश किया गया है।

अस्तु,

श्री मान जी,

आपसे कर वद्ध विनीत हूं कि मुझ फरियादी को सुरक्षा प्रदान करने की कृपा किया जाय उक्त मामले में त्वरित कार्यवाही कर आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलवाने की कृपा करे ɪ

संलग्न :-

1. आरोपी देवेन्द्र पाण्डेय और उसके साथी द्वारा मुझ फरियादी को किये गए फोन डिटेल्स की छायाकॉपी
2. आरोपी देवेन्द्र पाण्डेय का फोन मुझ फरियादी द्वारा फोन न उठाने पर देवेन्द्र पाण्डेय द्वारा व्हाटएप पर और फोन पर मेसेज कर भद्दी गाली दिया गया की छायाकॉपी
3. उक्त मामले को माननीय एस०पी० सूर्यकान्त शर्मा साहब को अवगत करने का फोन डिटेल्स की छायाकॉपी
4. एक डी०वी०डी० जिसमे उक्त अरोपिओं की रिकॉर्डिंग व माननीय एस०पी० सूर्यकान्त शर्मा साहब की रिकॉर्डिंग की छायाकापी

फ़रियादी

नीरज गुप्ता पिता मुन्नी लाल गुप्ता
ग्राम व थाना बरगवां, जिला सिंगरौली
मध्य प्रदेश