नगर निकाय चुनाव 2017–अंतिम चरण में 25 जिलों में मतदान

फिरोजाबाद (विकासपालिवाल)————- नगर निकाय चुनाव 2017 के अंतिम चरण में यूपी के 25 जिलों में हों रहे मतदान के क्रम में फिरोजाबाद जिले में भी सुबह साढ़े सात बजे मतदान शुरू हुआ। जिसमें फिरोजाबाद नगर निगम, शिकोहाबाद नगर पालिका, सिरसागंज नगर पालिका, टूण्डला नगर पालिका, एका नगर पंचायत, जसराना नगर पंचायत, फरिहा नगर पंचायत शामिल रहे।

खास बात यह रही कि इसय चुनाव में पहली बार ड्रोन कैमरों का इस्तेमाल किया गया। जिसमें बबालियांे पर आकाश मार्ग से निगाह रखी गयी। डीएम नेहा शर्मा अल सुबह ही मतदान स्थलों का निरीक्षण करने निकल गयीं। इस दौरान भाऊ का नगला स्थित बूथों व गांधी पार्क चैराहा पर आकर आसपास के बूथों तिलक इंटर काॅलेज सहित अन्य कई स्थानों पर निरीक्षण किया तो वहीं एसएसपी डा. मनोज कुमार ने पेमेश्वर गेट सहित कई अति संवेदनशील मतदान केंद्रों पर खास नजर रखी। वहीं कहीं ईवीएम खराब तो कहीं फर्जी मतदान, कहीं वोट डालने न देने की शिकायत पर पुलिस मतदान खत्म होने तक दौड़ती रही।
1
बता दें कि जिले में हुये नगर निकाय चुनाव 2017 को लेकर कुल 220 मतदान स्थलों के 639 बूथों पर मतदान शुरू हुआ। जिसको लेकर जिला एवं पुलिस प्रशासन की चैकस व्यवस्थायें रहीं। शुरू हुये मतदान के क्रम में सुबह ही नगर निगम के वार्ड नंबर 48 के अर्शी मेमोरियल पब्लिक स्कूल में बने बूथ की ईवीएम खराब हो गयी। जिसके चलते करीब 15 मिनट तक मतदान बाधित रहा, जब नई ईवीएम रखी गयी तब मतदान शुरू हुआ।

नगर निगम के वार्ड संख्या 53 में हुंडा वाला बाग के बूथ संख्या 334 मेयर की ईवीएम खराब हो गयी, जिसमें सुबह नौ बजे तक महज एक वोट ही पड़ पाया था। जानकारी पर सेक्टर मजिस्ट्रेट मौके पर पहुंच गये थे। इस ईवीएम को करीब दो घंटे बाद बदला गया। वहीं सायं साढ़े चार बजे यहां मतदान का समय पांच बजे से ज्यादा करने की मांग को लेकर लोगों की भीड़ एकत्रित हो गयी जिस पर पुलिस को लाठीचार्ज कर खदेड़ना पड़ा।

टूंडला के बूथ संख्या एक, दो, तीस व 31 पर प्रत्याशी मतदाताओं पर अपना दबाव बनाते दिखे। अपने पक्ष में पोलिंग कराने को लेकर बूथ के अंदर तक प्रवेश कर गये, जहां तैनात पुलिस ने उन्हें बाहर का रास्ता दिखाया।

फिरोजाबाद नगर निगम के सुहागनगर वार्ड नंबर 44 में बूथ संख्या 273 एजी पब्लिक स्कूल पर फर्जी मतदान की शिकायतें सामने आयीं। जिसमें पहचान पत्र गांव का और वोट यहां पड़ रहा। वहीं जसराना नगर पंचायत में बूथ संख्या सात पर दो महिलाओं को चैकिंग के दौरान महिला पुलिस ने फर्जी मतदान करते हुये पकड़ लिया। जिन्हें महिला पुलिस पूछताछ के लिये अपने साथ ले गयी।

नगर निगम के पेमेश्वर गेट वार्ड नंबर 27 के बूथ संख्या 175 पर बाहरी लोगों द्वारा वोट डालने आये वोटरों को भगाने की जानकारी पर वहां सेक्टर मजिस्ट्रेट पहुंचे। बताया गया कि यहां सरस्वती नगर, दुर्गा नगर के लोग वोट डालने से पहले ही लौटा रहे थे। इसके अलावा नगर निगम के करबला वार्ड नंबर सात में वहां से गुजरती दक्षिण थाने की पुलिस ने अचानक लोगों पर लाठीचार्ज कर दिया। जिससे लोग अपने बस्ते छोड़कर वहां से भागे। चर्चा रही कि ईवीएम मशीन खराब होने पर मतदान करने से वंचित होने पर लोग हंगामा कर रहे थे।

वार्ड नंबर एक सैलई बूथ संख्या सात पर ईवीएम मशीन 12 बजकर पांच मिनट के करीब खराब हुयी जिसकी जगह दो बजकर पांच मिनट पर मशीन रखी गयी। इस तरह दो घंटे मतदान बाधित रहा। नगर निगम वार्ड नंबर 17 बंबा रोड के बूथ संख्या 106, 107, 108 पर कई वोटर उस वक्त हैरत में पड़ गये जब वे वोट डालने आये और उनका वोट पहले से ही पड़ा पाया गया।

इस दौरान लोगों ने एकत्रित होकर इसकी निंदा की और आरोप लगाते हुये कहा कि अंदर बिना आधार कार्ड, परिचय पत्र के बैंक की पासबुक से फर्जी मतदान कराया जा रहा है। कई वोट डालने से वंचित लोगों में युवती कोमल पुत्री भीकमपाल ने बताया कि जब वह अपना वोट डालने आयी तो वह तो पहले ही पड़ चुका था, ऐसा कई लोगांे के साथ हुआ है। जानकारी होने पर जोनल मजिस्ट्रेट मौके पर पहुंच गये।

नगर निगम वार्ड नंबर 13 के मथुरा नगर पोलिंग ब्रजराज सिंह इंटर काॅलेज मे भी इसी तरह फर्जी मतदान होने की सूचनायें मिलतीं रहीं। कई लोगों के वोट पहले ही पड़ चुके थे यहां भी।
2
कई जगह बीएलओ की लापरवाही की वजह से कई वोट गायब रहे इनमें नगर निगम के वार्ड संख्या 13 सरस्वती नगर के काफी संख्या में वोटरों को उनकी पर्ची ही नहीं मिली। जिससे वे मतदान से वंचित रह गये। तो वार्ड नंबर 32 में करीब सौ वोटर के वोट गायब रहे सूची से। इससे अनुमान लगाया जा सकता है कि बीएलओ की लापरवाही किस कदर रही। वहीं नगर निगम के वार्ड नंबर 63 से मौहल्ला लालपुर छोटा में बूथ संख्या 392, 393, 394 महापौर ईवीएम मशीन में गड़बड़ी पायी गयी।

बटन दबाने पर आवाज नहीं हो रही थी इस पर वोटर चिंतित रहे कि उनका वोट पड़ा भी या नहीं। इसके अलावा शिकोहाबाद नगर पालिका के वार्ड संख्या एक में भी मतदाता सूची से काफी संख्या में वोटरों के नाम गायब रहे जिस कारण वे वोट न डाल पायें। वहीं नगर निगम वार्ड नंबर 31 की जनता ने चुनाव बहिष्कार किया। जनता का आरोप था कि कम से कम एक हजार लोगों के वोट काटे गये हैं और बीएलओ ने विपक्षी पार्टियों से मिलकर वोट काट दिये हैं।

वार्ड की जनता का कहना था हम लोग इस चुनाव का बहिष्कार करते हैं, चुनाव पुनः कराने की मांग को लेकर डीएम से मिलने की बात भी कही। प्रशासनिक अधिकारियों में एडीएम उदय सिंह, एसडीएम संगम लाल यादव, नगर मजिस्ट्रेट शीतला सिंह, एसपी ग्रामीण महेंद्र सिंह, एसपी सिटी राजेश कुमार, सीओ सिटी डा. अरूण कुमार संग थाना उत्तर, दक्षिण, लाइनपार, रामगढ़, रसूलपुर प्रभारियों की इस चुनाव में कड़ी मेहनत दिखी, जिसके कारण कहीं भी कोई सूचना मिलने पर तत्काल मौके पर पुलिस पहुंची।

एसएसपी द्वारा वोटर की धुनाई.
फिरोजाबाद। सुबह फिरोजाबाद नगर निगम के चंदवार गेट के पास एक बूथ पर उस समय सब हैरत में पड़ गये जब एसएसपी डा. मनोज कुमार को इतना गुस्सा आये कि उन्हांेने एक वोटर को बाहर निकालते हुये उसके तमाचा जड़ दिया, धुनाई कर दी। वोटर ने जिला अस्पताल में अपना मेडीकल कराया है। जिसकी चर्चा देर सायं तक होती रही।