ई-कोर्ट में पेशी की तारीख भी दर्ज हो : राजस्व मंत्री श्री पाण्डेय

रायपुर -(छत्तीसगढ)—– राजस्व मंत्री श्री प्रेम प्रकाश पाण्डेय ने कहा है कि राजस्व न्यायलयों में प्रकरणों को ई-कोर्ट के तहत ऑनलाईन दर्ज किया जा रहा है, प्रकरणों में दी जाने वाली पेशियों की तारीख को भी सतत् रूप से ऑनलाईन दर्ज किया जाए।

राजस्व न्यायालयों में दो साल से अधिक अवधि के लंबित प्रकरणों विशेषकर नामांतरण, सीमांकन और बंटवारा के प्रकरणों का विशेष अभियान चलाकर निराकरण सुनिश्चित किया जाए। राजस्व मंत्री श्री पाण्डेय यहां विधानसभा में अपने कक्ष में रायपुर जिले में नजूल नवीनीकरण सहित अन्य राजस्व प्रकरणों के निराकरण की प्रगति की समीक्षा बैठक ली।

श्री पाण्डेय ने बैठक में जिले में ऑनलाईन रजिस्ट्री एवं नामांतरण की समीक्षा करते हुए कहा कि पंजीयन कार्यालय से प्राप्त पंजीयन की ऑनलाईन सूचना के आधार पर नामांतरण की प्रक्रिया प्रारंभ की जाए। उन्होने रजिस्ट्री की संख्या के अनुसार ही नामांतरण की कार्यवाही भी करने और इस कार्य में तेजी लाते हुए आगामी 28 फरवरी तक सभी प्रकरणों को अपडेट करने को कहा है।

आबादी सर्वे के कार्य की समीक्षा करते हुए राजस्व मंत्री ने कहा कि रायपुर जिले के 57 गांवो में से 37 गांवो का आबादी सर्वे का कार्य पूर्ण हो चुका है, रायपुर शहर के शेष 22 गावों में जहां इस कार्य में कठिनाई हो रही है वहां पायलट प्रोजेक्ट के तहत छोटे-छोटे टुकड़ो में दल का गठन कर सर्वे का कार्य शीघ्र पूर्ण किया जाए।

राजस्व मंत्री ने डिजिटल सिग्नेचर के तहत अभिलेखों का सत्यापन तथा नकल हेतु ऑनलाईन प्राप्त आवेदनों के निराकरण की स्थिति की भी समीक्षा की और खातों में आधार और मोबाईल नंबर की प्रविष्टि के कार्य को आगामी 28 फरवरी तक पूर्ण करने के निर्देश दिए है।

बैठक में राजस्व विभाग के सचिव श्री निर्मल खाखा, कलेक्टर श्री ओ.पी.चौधरी, आयुक्त भू-अभिलेख श्री रमेश शर्मा और अपर कलेक्टर श्री क्यू.ए.खान सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।